sholey famous Character gabbar singh done by amjad khan know about who was actual gabbar singh a daku – हिंदी सिनेमा का खलनायक ‘गब्बर सिंह’ सिनेमा के पर्दे तक पहुंचा कैसे, जानिए कहानी…

अमिताभ बच्चन, धर्मेंद्र, संजीव कुमार, जया बच्चन और हेमा मालिनी स्टारर फिल्म ‘शोले’ को कौन भूल सकता है। इस फिल्म के एक एक पात्र का डायलॉग बच्चा-बचचा जानता है। फिल्म में जय-वीरू, बसंती, सांभा और कालिया जैसे नामों ने खूब प्रसिद्धी पाई। वहीं फिल्म में गब्बर सिंह के कैरेक्टर ने अपने आप में इस फिल्म के जरिए एक इतिहास रचा। क्या आप जानते हैं अमजद खान द्वारा निभाए गए ‘गब्बर’ कैरेक्टर के पीछे की कहानी क्या है?

50 के दशक में मध्यप्रदेश के बीहड़ों में गब्बर उर्फ गबरा नाम का एक असली डाकू हुआ करता था। वह डाकू बहुत खतरनाक हुआ करता था। वहीं दूर-दूर तक इस डाकू का आतंक बना हुआ था। इस डाकू के सिर पर पुलिस ने उस वक्त 50 हजार रुपए का इनाम रखा हुआ था। उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश और राजस्थान में इस डाकू को ढूंढा जा रहा था। कहा जाता है कि डाकू ने ऐसी कसम खाई थी कि वह अपनी कुल देवी को खुश करने के लिए 116 लोगों की नाक काट कर उनके आगे भेंट चढ़ाएगा।

बड़ी खबरें

फिल्म शोले में गब्बर और कालिया

उसे एक तांत्रिक ने कहा था कि अगर वह ऐसे करता है तो वह पुलिस की गोली का निशाना कभी नहीं बनेगा। उस वक्त तक वह 26 लोगों की नाक काट चुका था। इनमें कुछ ऐसे लोग भी थे जो वर्दी वाले थे। यह किस्सा एक किताब में दर्ज है। केएफ रुस्तम की डायरी में इस कहानी का जिक्र है। वह 50 के दशक में मध्यप्रदेश के पुलिस महानिरीक्षक पद पर थे।

रुस्तम को डायरी लिखना बहुत पसंद था, इसलिए वह मुख्य बातों को लिखते थे। आपीएस अधिकारी पीवी राज गोपाल ने इस किस्से को किताब की शक्ल में उतार दिया। ‘द ब्रिटिश, द बैंडेड्स एंड द बॉर्डर मैन’ किताब में इस किस्से का जिक्र है। फिल्म शोले का कैरेक्टर ‘गब्बर’ इसी कहानी से प्ररित है। हालांकि इस कैरेक्टर को असल कैरेक्टर से थोड़ा अलग बनाया गया। इस फिल्म के लेखक सलीम खान ने जहन में ये कैरेक्टर था इसलिए उन्होंने इसे अपनी फिल्म की कहानी में जगह दी।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *