Sridevi Kapoor Funeral Video, Shree Devi Funeral, Shri Devi Death News in Hindi: Ramgopal varma said Sridevi was like a bird in a cage – श्रीदेवी के निधन पर रामगोपाल वर्मा का बयान: पिंजरे में कैद चिड़िया की तरह थी एक्ट्रेस की जिंदगी

बॉलीवुड की दिग्गज एक्ट्रेस श्रीदेवी के आकस्मिक निधन की वजह से उनके परिवार समेत पूरा बॉलीवुड सदमे में है। किसी को यकीन नहीं हो रहा है कि श्रीदेवी इस दुनिया में नहीं हैं। इस खबर के बाद से फिल्मी सितारों समेत उनके फैन्स भी श्रीदेवी की मौत पर दुख जाहिर कर रहे हैं। फिल्म निर्देशक रामगोपाल वर्मा भी श्रीदेवी की मौत से सदमे में हैं। उन्होंने एक्ट्रेस के साथ दो फिल्मों में काम किया। वह श्रीदेवी की मौत के बाद से सोशल मीडिया पर उनसे जुड़े कई पोस्ट शेयर कर चुके हैं। एक पोस्ट में उन्होंने लिखा था कि मैं भगवान से नफरत करता हूं, उनकी मौत के लिए और मैं श्रीदेवी से नफरत करता हूं मर जाने के लिए। रामगोपाल वर्मा अब तक अपने ट्विटर और फेसबुक अकाउंट पर उनसे जुड़े कई पोस्ट शेयर कर चुके हैं। वहीं अब उन्होंने अपनी फेसबुक वॉल पर श्रीदेवी के फैन्स के लिए एक लव लेटर शेयर किया है। इस खत में उन्होंने श्रीदेवी की जिंदगी से जुड़े कई खुलासे किए हैं।

संबंधित खबरें

रामगोपाल ने लेटर की शुरुआत में लिखा ‘श्रीदेवी के फैन्स को उनकी जिंदगी की सच्चाई पता होनी चाहिए। उन्होंने आगे लिखा श्रीदेवी की खूबसूरती का हर कोई दीवाना था। उन्होंने करीब 20 साल तक एक लीडिंग एक्ट्रेस के रूप में सिल्वर स्क्रीन पर कब्जा जमाए रखा। अब उनकी मौत के बाद हर कोई दुखी है। सब चाहते हैं कि उनकी आत्मा को शांति मिले, लेकिन उनकी आत्मा को शांति कैसे मिल सकती है’।

श्रीदेवी से जुड़ी खबरों के लिए क्लिक करें

यहां उन्होंने बताया कि ‘वह एक्ट्रेस के साथ दो फिल्मों ‘कशनाकशनम’ और ‘गोविंदा गोविंदा’ में काम कर चुके थे। उनकी पर्सनल लाइफ एकदम अलग थी। काफी लोगों को लगता था कि श्रीदेवी की लाइफ एकदम परफेक्ट है। खूबसूरत चेहरा, ग्रेट टैलेंट, एक स्टेबल लाइफ दो खूबसूरत बेटियां। सबको दूर से लगता कि उन्हें सब हासिल है जो एक खुशनुमा जिंदगी के लिए चाहिए होता है। लेकिन क्या वह सच में खुश थीं?’

इन सेलेब्स की भी बाथटब में डूबने से हुई है मौत

रामगोपाल ने लेटर में लिखा, ‘मैं उन्हें तब से जानता था जब से मिला। मैंने उनकी जिंदगी को अपनी आंखों से देखा। उनके पिता के निधन से पहले उनकी जिंदगी एक खुली चिड़िया के समान थी। लेकिन इसके बाद उनकी मां की वजह से उनकी जिंदगी पिंजरे में कैद चिड़िया की तरह हो गई’। निर्देशक ने भावुक होते हुए लिखा, ‘उनके साथ मेरे अपने अनुभव से मैं कह सकता हूं कि मैं उन्हें सिर्फ तभी खुश देखता था जब वह कैमरा के सामने होती थी। वह सिर्फ एक्शन और कट के बीच में ही खुश रहा करती थीं। क्योंकि वह अपनी जिंदगी की कड़वी सच्चाई को सिर्फ इसी दौरान भूल पाती थीं’। बता दें रामगोपाल वर्मा कॉलेज के दिनों से ही श्रीदेवी की खूबसूरती के फैन थे। उन्होंने अपने इस खत में श्रीदेवी से जुड़ी कई बातें शेयर की हैं।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *