VHP decided to protest against screening of movie Loveratri in Theatres – सलमान के बहनोई की फिल्‍म का विरोध करेगा विहिप

कुछ ही समय पहले बॉलीवुड के मशहूर फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली की फिल्म पदमावत विवादों के घेरे में थी। उनकी फिल्म पर राजपूतों की भावनाएं आहत करने का आरोप लगा था। लेकिन इस बार एक और फिल्म ने हिंदूवादी संगठनों की त्यौरियां चढ़ा दी हैं। हिंदू संगठनों का आरोप है कि इस फिल्म का नाम उनके पवित्र त्योहार के नाम को बिगाड़कर रखा गया है। संगठनों का तर्क है कि अगर इस फिल्म को दिखाया गया तो समाज में लोगों की भावनाएं आहत हो सकती हैं।

रिलीज होने को तैयार ये फिल्म सलमान खान के बहनोई आयुष शर्मा की डेब्यू फिल्म है। इस फिल्म का नाम ‘लवरात्रि’ है। फिल्म का निर्माण सलमान खान का प्रोडक्शन कर रहा है। हिंदू संगठनों का कहना है कि हम इस फिल्म का प्रदर्शन सिनेमाघरों में नहीं होने देंगे क्योंकि इससे देश में सामाजिक सौहार्द बिगड़ सकता है। समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा,”इस फिल्म का नाम एक पवित्र हिंदू त्योहार नवरात्रि के नाम को बिगाड़कर रखा गया है। हर बार हिंदू त्योहारों का ही मजाक ये फिल्म निर्माता क्यों बनाते हैं?”

संबंधित खबरें

बता दें, फिल्म लवरात्रि की कहानी गुजरात की पृष्ठभूमि से जुड़ी हुई है। जहां नवरात्रि के नौ दिनों में दोनों कपल के बीच पनपते हुए प्यार को दिखाया गया है। इस फिल्म से दो नए कलाकार लांच होने जा रहे हैं। इस फिल्म के हीरो आयुष शर्मा हैं जो कि सलमान की बहन अर्पिता के प​ति हैं। इस फिल्म से एक्ट्रेस वरीना हुसैन डेब्यू करने जा रही हैं। इस फिल्म के निर्देशक अभिराज मीनावाला हैं। मीनावाला की बतौर निर्देशक ये पहली फिल्म है। इससे पहले उन्होंने बतौर सहायक निर्देशक फिल्म शाहरुख खान की फिल्म सुल्तान और फैन में काम किया है।

बता दें कि इससे पहले भी हिन्दू संगठन संजय लीला भंसाली की फिल्म पदमावत के खिलाफ एकजुट होकर खड़े हो गए थे। इस फिल्म का विरोध कर रहे लोगों का दावा था कि ये फिल्म राजस्थान की रानी पदमावती की जिन्दगी को बिगाड़कर दिखाती है। इस फिल्म के प्रदर्शन से राजपूत समाज की भावनाएं आहत होंगी। इस फिल्म का विरोध करने के लिए करणी सेना और विश्व हिन्दू परिषद समेत कई हिन्दू संगठनों ने पूरे देश में व्यापक प्रदर्शन किए थे। जिसे नियंत्रित करने के लिए पुलिस को कई जगह लाठीचार्ज भी करना पड़ा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *