ट्रेन में बैठे-बैठे देख सकेंगे IRCTC के किचन में कैसे पक रहा खाना- रेल मंत्री ने बताया प्लान और तरीका – railways decided to live-stream footage of its ‘base kitchens said rail minister Piyush Goyal

रेलवे ने अपने ‘बेस किचन’ की फुटेज को लाइव करने का फैसला किया है ताकि खराब गुणवत्ता वाले भोजन पर निगरानी रखी जा सके हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि रेल यात्रियों की शिकायत होती है कि उन्हें दिए जा रहे खाने की गुणवत्ता अच्छी नहीं होती है। ये यानकारी खुद केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दी है। रेल मंत्री ने बताया कि यात्री आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर जाकर खाना पकाने की लाइव स्ट्रीमिंग देख सकते हैं। इसके लिए एक एप विकसित की जाएगी जिसके जरिए यात्री किचन में बनने वाले भोजन को यात्रा के दौरान देख सकेंगे। यह यात्रियों की आराम के अलावा यात्रियों की सुरक्षा से जुड़े अभियान का एक हिस्सा है।

हालांकि आईएएनएस के मुताबिक रेल यात्रा के दौरान परोसे जाने वाले भोजन या खाद्य पदार्थो के बारे में रेल यात्रियों के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए आईआरसीटीसी द्वारा विकसित एक नए मोबाइल एप ‘मेन्यू ऑन रेल्स’ को बीते सोमवार को यहां लांच किया जा चुका है। मामले में मंत्रालय की ओर से जारी बयान के अनुसार, यह मोबाइल एप सभी प्रकार की रेलगाड़ियों पर परोसे जाने वाले मेन्यू (व्यंजन-सूची) के बारे में व्यापक जानकारी देता है। मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों के लिए खाद्य पदार्थो को चार श्रेणियों में कवर किया जाता है: पेय पदार्थ, नाश्ता, भोजन और कोई विशिष्ट खाद्य पदार्थ (ए-ला-कार्टे)।

संबंधित खबरें

बयान के अनुसार, चाय, कॉफी, बोतलबंद पेयजल, जनता खाना, मानक शाकाहारी भोजन (थाली), मानक मांसाहारी भोजन (थाली), मानक शाकाहारी भोजन (पुलाव या कैसरोल) और मानक मांसाहारी भोजन (पुलाव या कैसरोल) जैसे मानक खाद्य पदार्थो हेतु दरों का उल्लेख ट्रेन और स्टेशन दोनों के लिए ही किया जाता है। (खाद्य प्लाजा और फास्ट फूड इकाइयों को छोड़ कर)। बयान के अनुसार, विशिष्ट खाद्य पदार्थो में नास्ता, हल्का भोजन, कॉम्बो भोजन, मांसाहारी भोजन, जैन फूड, मिठाइयों, मधुमेह वाले खाद्य पदार्थो इत्यादि की श्रेणियों के तहत 96 वस्तुओं की सूची शामिल है।

बयान में कहा गया है कि यह मोबाइल एप राजधानी/शताब्दी/दुरंतो समूह की ट्रेनों में परोसे जाने वाले मेन्यू के बारे में भी जानकारी देता है, जिनमें यात्रियों द्वारा अपनी टिकट बुकिंग के समय ही भोजन को भी बुक कर दिया जाता है। एप गतिमान और तेजस ट्रेनों में परोसे जाने वाले भोजन (पहले से ही बुक किए गए) को भी दर्शाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *