राम मंदिर पर जब पीएम नहीं बोलते तो ये छुटपैका नेता क्यों बोलते हैं? BJP नेताओं पर राम विलास पासवान का तंज – union-minister-ram-vilas-paswan-says-ljp-will-remain-in-nda-and-pm-narendra-modi-with-respect-not-as-bonded-labourer

2019 में अगली सरकार किसकी बनेगी? इस सवाल के जवाब में केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने कहा है कि 2019 में दिल्ली में कोई वैकेंसी नहीं है। विपक्ष अगर मेहनत कर रही है तो ठीक है, लेकिन फल नहीं मिलने वाला है। नरेंद्र मोदी फिर से पीएम बनेंगे। राम विलास पासवान ने कहा कि वह दावे से कह सकते हैं कि अगले साल बहुमत से एनडीए की सरकार बनेगी। रामविलास पासवान बीजेपी के उन नेताओं पर भड़के जो राम मंदिर और बाबरी मस्जिद का मुद्दा उठाते हैं।

शो में उनसे पूछा गया कि बिहार में रामनवमी के दौरान हिंसा हुई तो बीजेपी नेता गिरिराज सिंह और अश्विनी चौबे के बयान आए इस पर आपका क्या स्टैंड है? इस सवाल के जवाब में रामविलास पासवान ने कहा, “हमने उस समय भी कहा था और आज भी कहना चाहते हैं कि नेताओं को सोच समझ कर बोलना चाहिए, प्रधानमंत्री का अनुकरण करना चाहिए, इतना दिन हो गया है नरेंद्र मोदी के वक्तव्य को कोई आदमी चुनौती नहीं दे सकता है, कभी उन्होंने रामजन्म भूमि की बात नहीं कही, कभी बाबरी मस्जिद की बात नहीं कही, कभी कॉमन सिविल कोड की बात नहीं कही, तो जब वो नहीं बोलते हैं तो ये छुटपैका नेता सब क्यों बोलते हैं?”

संबंधित खबरें

केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने न्यूज चैनल ‘आजतक’ के शो सीधी बात में देश में दलितों के गुस्सों पर पासवान ने कहा कि दलित का गुस्सा लाजिमी है। उन्होंने कहा, “हमारी जेनरेशन और चिराग पासवान की जेनरेशन में मूल रूप से फर्क है, उन्होंने कहा कि हमारी जेनरेशन के लोग जुल्म, अत्याचार और गाली सहकर रह जाते थे, लेकिन आज की पीढ़ी को ये मंजूर नहीं है, वो सम्मान और इज्जत की जिंदगी जीना चाहते हैं, वो टूट सकते हैं, लेकिन झुकने को तैयार नहीं है।” राम विलास पासवान ने कहा कि जैसे-जैसे वक्त गुजर रहा है, बाबा साहेब के विचार मुखर होकर सामने आ रहे हैं।

दलितों के घरों में बीजेपी नेताओं के भोजन पर रामविलास पासवान ने कहा कि नेताओं को बिना बुलावे के किसी के घर जाने की क्या जरूरत है। उन्होंने कहा कि दलितों के घर खाने का प्रचार करना गलत है। उन्होंने कहा कि जब कुछ नेता दलित के घर खाना खाने के नाम पर जाते हैं और बाहर से खाना मंगाकर खाते हैं तो उन्हें नहीं पता होता है कि मीडिया सब कुछ देख रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *