राहुल गांधी ने समीकरण और फॉर्मूला से समझाया कि नरेंद्र मोदी की मदद से भागे नीरव मोदी, लोगों ने कर दी खिंचाई – congress president Rahul gandhi attack bjp and pm narendra modi over nirav modi mehul choksi escape from Indian pnb scam

पंजाब नेशनल बैंक का 11 हजार 500 करोड़ का घोटाला उजागर होने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केन्द्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर लगातार हमला कर रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा है कि घोटालेबाज ने भागने के लिए नरेंद्र मोदी का सहारा लिया। राहुल गांधी ने अपनी बात को समझाने के लिए एक समीकरण का सहारा लिया है और इस बार एस्केप फॉर्मूले की चर्चा की है। बता दें कि साल 2013 में गरीबी उन्मूलन के लिए दिया गया राहुल गांधी का एस्केप वेलोसिटी का फॉर्मूला काफी चर्चा में रहा था। राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में इस बार एक फॉर्मूले की बात की है। राहुल ने लिखा, “ये है घोटालेबाज के भागने का फॉर्मूला:” इसके बाद राहुल गांधी ने संकेतों में लिखा कि ललित मोदी नीरव मोदी नरेंद्र मोदी के नाम पर सवार होकर भाग जाते हैं। बता दें कि राहुल गांधी ने गुरुवार को भी इस मामले पर एक ट्वीट किया था और कहा था कि नीरव मोदी द्वारा भारत को लूटने का गाइड इस तरह है। राहुल ने लिखा, “आप पीएम मोदी को गले लगाइए, उनके साथ दावोस में नजर आइए, अब इसके जरिए 12 हजार करोड़ रुपये चुराइये, जब तक सरकार की नजर दूसरी ओर है, विजय माल्या की तरह फरार हो जाइए।”

बड़ी खबरें

राहुल के एस्केप फॉर्मूले पर ट्विटर पर जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है। रोहित नाम के यूजर ने लिखा, “जरा कांग्रेस राज के स्कैम फॉर्मूले के बारे में भी कुछ कहिए।” संपत सरल ने लिखा, “न खाऊंगा न खाने दूँगा, अब कोई लेकर भाग जाए, ये अलग बात है।” एक यूजर ने लिखा, “मोदी सरनेम के कारण प्रधानमंत्री जिम्मेदार हैं तो पंजाब नेशनल बैंक नाम होने के कारण पंजाब, पंजाब की कांग्रेस सरकार और सारे पंजाबी जिम्मेदार हैं।” एक यूजर ने पीएम नरेंद्र मोदी को करप्शन पर दिया गया उनका मशहूर भाषण रेनकोट पहनकर नहाने की कला को याद दिलाया। इस यूजर ने लिखा, “जुलाई 2016 में पीएमओ को पता चल गया था कि घोटाला होने वाला है, 2017 में चूना लगा दिया उसने, बड़े मोदी क्या रेनकोट पहन कर नहा रहे थे?” एक यूजर ने लिखा, “70 साल में पहली बार केंद्र में ऐसी सरकार है जिस पर स्कैम उजागर करने के आरोप लग रहे हैं, ऐसे आरोप सहने वाले मोदी पहले प्रधानमंत्री बन चुके हैं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *