हिंदी न्यूज़ – सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के खिलाफ बंद से आरएसएस ने बनाई दूरी-RSS Distances Itself from Kerala Bandh Against Women’s Entry in Sabarimala

सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के खिलाफ बंद से RSS ने बनाई दूरी

सबरीमाला मंदिर (File Photo)

News18Hindi

Updated: July 29, 2018, 11:56 PM IST

राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ ने सबरीमाला मंदिर के दरवाजे महिलाओं के लिए खोलने की मांग के खिलाफ केरल में सोमवार को बुलाए गए बंद से दूरी बना ली है. अयप्‍पा सेना ने यह बंद बुलाया है. आरएसएस नेता पी गोपालनकुट्टी मास्‍टर ने कहा कि लोगों के अयप्पा सेना को संघ परिवार का हिस्‍सा समझ लेने के चलते उन्‍हें बयान जारी करने को मजबूर होना पड़ा है.

टाइम्‍स ऑफ इंडिया से उन्‍होंने कहा, ‘हमें नहीं लगता कि यह(सबरीमाला में महिलाओं का प्रवेश) ऐसा मुद्दा है जिसके फैसले के लिए सड़क पर उतरना चाहिए. आरएसएस को उम्‍मीद है कि सबरीमाला मंदिर को हर उम्र की महिला के लिए खोलने से पहले सुप्रीम कोर्ट को आस्‍था, रिवाजों और परंपराओं का ख्‍याल रखेगा.’

इस हड़ताल से कई संगठनों जैसे नायर सर्विस सोसायटी और एसएनडीपी ने भी खुद को अलग कर लिया है. हालांकि अनजाने से संगठन अयप्‍पा सेना की मांग है कि सबरीमाला की परंपरा नहीं टूटनी चाहिए. उसकी ओर से कहा गया है कि वह महिलाओं को मंदिर में घुसने से रोका जाएगा.

हड़ताल को लेकर केरल सरकार ने कहा है कि वह कानून व्‍यवस्‍था में बाधा डालने वालों से सख्‍ती से निपटेगी. बता दें कि सबरीमाला में 10 से 50 साल तक की महिलाओं को पंबा तक ही जाने की इजाजत है. सुप्रीम कोर्ट में महिलाओं को मंदिर में जाने के अधिकार पर सुनवाई हो रही है. चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्‍यक्षता वाली पांच सदस्‍यीय बैंच जल्‍द ही इस पर फैसला सुना सकती है.

और भी देखें

Updated: July 29, 2018 11:44 PM ISTसियासतदानों! बीमार, भूखी और बदहाल हैं गोशालाओं में गाय

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *