1984 sikh riots BJP and Akali Dal released a video and demands the arrest of congress leader Jagdish Tytler – 1984 दंगा: बीजेपी, अकाली ने वीडियो जारी कर जगदीश टाइटलर को घेरा, कहा- गिरफ्तार करो

1984 दंगे के मामले में बीजेपी और अकाली दल ने कांग्रेस के नेता जगदीश टाइटलर को घेरते हुए पुलिस से उनकी गिरफ्तार की मांग की है। सिख ऑर्गेनाइजेशन ने सोमवार को एक वीडियो जारी किया था जिसमें टाइटलर यह कहते हुए सुनाई दिए थे- ‘मैंने 100 सिखों को मारा।’ इसी वीडियो के आधार पर शिरोमणि अकाली दल ने कांग्रेस नेता के ऊपर हमला बोला है। दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमिटी के द्वारा सोमवार की शाम को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एक वीडियो जारी किया गया था। यह वीडियो करीब 7 साल पुराना है।

एनडीटीवी के मुताबिक अकाली दल के नेता मंजीत सिंह जीके ने बताया कि एक अज्ञात व्यक्ति ने उन्हें पेन ड्राइव दिया था। उस पेन ड्राइव में यह वीडियो था। रिपोर्ट्स के मुताबिक यह वीडियो किसी स्टिंग ऑपरेशन का है। वहीं टाइटलर ने इस वीडियो को फेक बताते हुए कहा है कि वह जांच के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। उन्होंने कहा, ‘सब जानते हैं कि अकाली दल कितना झूठ बोलता है। मेरे ऊपर नार्को टेस्ट कर लो और उस व्यक्ति का भी कर लो जिसने यह वीडियो बनाया है। मैं अकाली दल के नेताओं और जिसने यह वीडियो बनाया है उन्हें कोर्ट तक लेकर जाऊंगा।’

बड़ी खबरें

सोमवार की शाम बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव आरपी सिंह ने दिल्ली में वरिष्ठ पुलिस अधिकारी से मुलाकात की और टाइटलर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने बताया कि बीजेपी ने अपनी शिकायत में कांग्रेस नेता की ‘तत्काल गिरफ्तारी’ की मांग की है। साथ ही यह भी कहा है कि मर्डर और हिंसा भड़काने के आरोप में टाइटलर के ऊपर जांच बैठाई जाए। सरकारी रिकॉर्ड्स के मुताबिक 1984 में हुए सिख दंगों में करीब 2800 सिखों की मौत हो गई थी और बाद में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को भी मार दिया गया था। जगदीश टाइटलर के ऊपर दंगे में शामिल होने का आरोप लगा था, हालांकि सीबीआई की तरफ से क्लीन चीट दे दी गई थी, लेकिन कोर्ट ने इस मामले पर आगे जांच करने का आदेश दिया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक जो वीडियो जारी किया गया है वह 8 दिसंबर 2011 का है। मंजित सिंह ने जानकारी दी है कि उन्होंने इस वीडियो की एक-एक कॉपी सीबीआई और प्रधानमंत्री कार्यालय को भेज दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *