हिंदी न्यूज़ – LIVE: स्‍टालिन ने पिता की याद में लिखी इमोशनल कविता, राज्‍य में उठी भारत रत्‍न देने की मांग-DMK chief Karunanidhi no more cauvery hospital

तमिलनाडु के पूर्व मुख्‍यमंत्री और द्रमुक अध्यक्ष एम. करुणानिधि का निधन हो गया. उन्‍होंने मंगलवार शाम 6.10 बजे कावेरी अस्‍पताल में अंतिम सांस ली. अस्‍पताल ने बयान जारी कर कहा कि डॉक्‍टर्स और नर्सों ने उन्‍हें बचाने की पूरी कोशिश की लेकिन करुणानिधि को बचाया नहीं जा सका. उनके कई जरूरी अंग ठीक से काम नहीं कर रहे थे. वे लगातार लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर थे.

वहीं उनके अंतिम संस्‍कार की जगह के चयन पर विवाद हो गया. राज्‍य सरकार ने मरीना बीच पर अंतिम संस्‍कार की अनुमति देने से इनकार कर दिया. इसके बाद मामला मद्रास हाईकोर्ट में चला गया जहां आधी रात के बाद कार्यकारी मुख्‍य न्‍यायाधीश के घर पर सुनवाई शुरू हुई. इस मामले पर सियासत भी मुखर रही. कई नेताओं और अभिनेताओं ने मरीना बीच के पक्ष में आवाज बुलंद की.

करुणानिधि का अंतिम संस्‍कार आज होना है. इसमें कई बड़े नेता शामिल होंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ चेन्‍नई आएंगे. गृह मंत्रालय ने आदेश जारी कर बुधवार को राष्‍ट्रीय शोक की घोषणा की. इसके तहत देशभर में तिरंगा आधा झुका रहेगा. तमिलनाडु में सात, बिहार में दो और कर्नाटक में एक दिन का राजकीय शोक रहेगा.

करुणानिधि पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री और 12 बार विधानसभा सदस्य रहे. वे भारतीय राजनीति में एक अलग ही पहचान रखते थे. एक राजनेता के साथ करुणानिधि तमिल सिनेमा जगत के एक नाटककार और पटकथा लेखक भी रहे. उनके प्रशंसक उन्हें कलाईनार कहकर बुलाते थे. इसका मतलब होता है तमिल कला का विद्वान. वे खुद को नास्तिक मानते थे.

करुणानिधि के अंतिम संस्‍कार के अपडेट्स के लिए पढ़ते रहें News18 Hindi…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *