हिंदी न्यूज़ – एनडीए के हरिवंश बने राज्‍यसभा में उप सभापति NDA candidate Harivansh singh Narayan defeats congress’s BK Hariprasad and became Rajyasabha deputy chairman

एनडीए के हरिवंश बने राज्यसभा के उपसभापति, पीएम बोले- अब सबकुछ हरि भरोसे

राज्‍यसभा उपसभापति चुने गए हरिवंश नारायण सिंह

News18Hindi

Updated: August 9, 2018, 1:19 PM IST

राज्यसभा में उपसभापति पद के लिए हुए चुनाव में एनडीए के उम्‍मीदवार हरिवंश को जीत हासिल हुई है. हरिवंश नारायण सिंह को 125 वोट मिले, जबकि विपक्षी उम्‍मीदवार बी के हरिप्रसाद को 105 वोट मिले. हरिवंश ने कांग्रेस के उम्‍मीदवार हरिप्रसाद को 20 वोटों से शिकस्‍त दी.

सदन की कार्यवाही शुरु होने पर सभापति एम वैंकेया नायडू ने सदन पटल पर आवश्यक दस्तावेज रखवाने के बाद उपसभापति पद की चुनाव प्रक्रिया शुरू करवाई. मतदान में दो सदस्यों ने हिस्सा नहीं लिया. सदन में कुल 232 सदस्य मौजूद थे. मतदान में दो सदस्यों ने हिस्सा नहीं लिया. सदन में कुल 232 सदस्य मौजूद थे.

चुनाव प्रक्रिया शुरू होने के बाद भाजपा सांसद अमित शाह सहित जदयू के आर सी पी सिंह, शिव सेना के संजय राउत और अकाली दल के सुखदेव सिंह ढींढसा ने हरिवंश के पक्ष में प्रस्‍ताव रखा था. जबकि हरिप्रसाद के लिये बसपा के सतीश चंद्र मिश्रा, राजद की मीसा भारती, कांग्रेस के भुवनेश्वर कालिता, सपा के रामगोपाल यादव और राकांपा की वंदना चव्हाण ने प्रस्ताव पेश किया.

इन प्रस्तावों पर मतविभाजन के बाद सभापति नायडू ने हरिवंश को उपसभापति निर्वाचित घोषित किया. इसके बाद हरिप्रसाद ने हरिवंश को उनके स्थान पर जाकर बधाई दी. नेता सदन अरुण जेटली, नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद, संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार और संसदीय कार्य राज्यमंत्री विजय गोयल ने हरिवंश को बधाई देते हुये उन्हें उपसभापति के निर्धारित स्थान पर बिठाया.वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बधाई देते हुए कहा, “मैं पूरे सदन की अोर से हरिवंश जी को बधाई देता हूं. उन्‍हें लेखन की प्रतिभा का आर्शीवाद मिला है. वह पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के पसंदीदा भी थे.” उल्लेखनीय है कि कांग्रेस सदस्य पी जे कुरियन के पिछले महीने सेवानिवृत्त होने के बाद उपसभापति का पद खाली हुआ था.

बता दें कि आज यानि 9 अगस्त को हुए राज्यसभा के उपसभापति का चुनाव में एनडीए ने पूर्व पत्रकार और झारखंड व बिहार के प्रमुख अखबार ‘प्रभात खबर’ के एडिटर रहे हरिवंश को अपना उम्मीदवार बनाया था. जबकि कांग्रेस की ओर से पार्टी के पूर्व महासचिव बीके हरिप्रसाद उम्मीदवार थे. हरिवंश को जेडीयू प्रमुख नीतीश का करीबी माना जाता है.

और भी देखें

Updated: August 09, 2018 12:41 PM ISTबिहार की ‘भागी’ हुई लड़कियां : जिनके लिए स्टे होम ही ज़िंदगी है

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *