हिंदी न्यूज़ – police alert in delhi after input from security agencies-खुफिया एजेंसियों से इनपुट के बाद चौकन्नी पुलिस, पूरी दिल्ली पर निगाहें

(रविशंकर सिंह)

74वें स्वतंत्रता दिवस से ठीक पहले दिल्ली सहित देश के कई हिस्से हाई अलर्ट पर हैं. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांचवीं बार लाल किले की प्राचीर से झंडा फहराने वाले हैं. मगर, कुछ आतंकी संगठनों ने इस जश्न को फीका करने का प्लान तैयार कर रखा है. भारतीय खुफिया एजेंसियों को जानकारी मिली है कि 15 अगस्त के दिन कुछ आतंकी घटना हो सकती हैं. जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा जैसे कुछ आतंकी संगठन 15 अगस्त के दिन हमले कर सकते हैं.

ये भी पढ़ेंः 15 अगस्त को ट्रैक पर दौड़ेगी तिरंगा ट्रेन, लोगों में जगाएगी देशभक्ति का जज्बा

खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के बाद दिल्ली पुलिस भी चौकन्नी हो गई है. पुलिस ने राजपथ से लेकर लाल किले तक सुरक्षा व्यवस्था मजबूत कर दी है. पुलिस के मुताबिक पूरी दिल्ली में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त हैं. दिल्ली पुलिस ने शहर की हर रोड पर बैरिकेडिंग कर रखी है. हर आने-जाने वाले की सघनता से जांच की जा रही है. राजपथ से लेकर लाल किले तक तलाशी अभियान चलाया जा रहा है.15 अगस्त से ठीक पहले दिल्ली पुलिस ने हथियारों का एक बड़ा जखीरा भी बरामद किया है. दिल्ली पुलिस ने चार दर्जन पिस्टल और इतनी ही कार्बाइन्स के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किया गया शख्स यूपी के शामली जिले का रहने वाला है. दोनों की गिरफ्तारी दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने की है.

ये भी पढ़ेंः खुद को गुलाम मानते हैं इस गांव के लोग, नहीं मनाते स्वतंत्रता दिवस

स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव कुमार यादव ने बताया कि 6 अगस्त को 50 पिस्टल, 2 कार्बाइन, 50 राउंड कार्ट्रिज और 19 मैगज़ीन बरामद की गई. पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है जबकि दूसरा आदमी भाग वहां से भाग गया. उन्होंने बताया कि

 इस गिरफ्तारी से पहले भी कुछ दिन पहले जम्मू में आठ ग्रेनेड के साथ एक आतंकी गिरफ्तार किया गया था. स्वतंत्रता दिवस से ठीक पहले जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बीते रविवार को आठ ग्रेनेड के साथ एक आतंकवादी को गिरफ्तार किया था. कहा जा रहा है कि आतंकी की गिरफ्तारी आईबी की इनपुट के आधार पर की गई. पुलिस पूछताछ में आतंकवादी ने खुलासा किया था कि बरामद ग्रेनेड्स को दिल्ली ले जाया जाना था.

इस आतंकवादी ने पुलिस पूछताछ में स्वीकार किया कि ग्रेनेड्स की कई खेप दिल्ली पहुंचाने का प्लान था. बता दें कि गिरफ्तार आतंकवादी अरफान वानी जम्मू के पुलवामा जिले का रहने वाला है.

जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा अरफान वानी की गिरफ्तारी के बाद दिल्ली पुलिस सतर्क और चौकस हो गई. दिल्ली पुलिस के आलाधिकारियों खुफिया एजेंसियों के साथ मीटिंग के बाद फैसला किया कि 15 अगस्त आने में बेशक अभी सप्ताह भर का वक्त है, लेकिन सुरक्षा व्यवस्था अभी से ही मजबूत कर दी जाए.

भारतीय खुफिया एजेंसियां दिल्ली पुलिस को लगातार खुफिया जानकारी मुहैया करा रही है. लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और हिज्बुल मुजाहिदीन जैसे कई आतंकी संगठन स्वतंत्रता दिवस को लेकर साजिश रच रहे हैं. इस लिहाज से भी दिल्ली पुलिस स्वतंत्रता दिवस को लेकर विशेष सतर्कता बरत रही है.

लाल किले को पहले से ही एनएसजी कमांडो के हवाले कर दिया गया है. वहीं दिल्ली पुलिस ने लाल किले के आस-पास के हिस्सों को किले में तब्दील कर दिया है. दिल्ली पुलिस के जवान सुरक्षा में लगातार मुस्तैद नजर आ रहे हैं. लाल किले से गुजरने वाले हर शख्स पर पैनी नजर रखी जा रही है. इलाके में जगह-जगह बैरिकेडिंग की गई है.

ये भी पढ़ेंः जम्मू से दिल्ली जाने वाली बस में ग्रेनेड के साथ संदिग्ध गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस के द्वारा पूरे दिल्ली में ऑपरेशन अलर्ट चलाया जा रहा है. खुफिया एजेंसियों से लगातार कोऑर्डिनेशन किया जा रहा है. किसी भी तरह का इनपुट मिलने पर दिल्ली पुलिस तुरंत एक्शन में आ जाती है.

पुलिस ने पूरी दिल्ली में सुरक्षा अभियान चला रखा है. दिल्ली के गेस्ट हाउस से लेकर होटलों और रेलवे स्टेशनों पर विशेष सतर्कता बरती जा रही है. दिल्ली मेट्रो में भी यात्रियों को पिछले कुछ दिनों से सघन जांच से गुजरना पड़ रहा है. दिल्ली पुलिस द्वारा चलाए जा रहे इस अभियान में कई संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार किए गए इन लोगों से कड़ी पूछताछ की जा रही है. दिल्ली के गेस्ट हाउस या होटलों में आने-जाने वाले लोगों की कड़ाई से जांच की जा रही है. होटल, गेस्ट हाउस और धर्माशालों के मालिकों और मैनेजरों को पूरी जानकारी के बाद ही कमरा देने को कहा गया है.

दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को विशेष सतर्कता बरतने की हिदायत दी जा रही है. हर थाने को अपने-अपने इलाकों के होटलों और गेस्ट हाउस में विशेष जांच करने को कहा गया है. इसको लेकर दिल्ली पुलिस की तरफ से कई स्पेशल टीमें बनाई गई हैं.

दिल्ली पुलिस के मुताबिक, ‘आईजीआई एयरपोर्ट सहित राजधानी के कुछ हिस्सों में सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी कर दी गई है. सुरक्षा एजेंसियों से इनपुट मिलने के बाद यह कड़ाई की गई है. दिल्ली पुलिस खुफिया एजेंसियों से लगातार संपर्क में है. पूरी दिल्ली में जगह-जगह चेकिंग की जा रही है. पीएम आवास और लाल किले जाने वाले रास्तों को पूरी तरह से सीसीटीवी से कवर कर दिया गया है. सीसीटीवी को मॉनिटरिंग करने के लिए दर्जनों कंट्रोल रूम बनाए गए हैं.’

बता दें कि दिल्ली पुलिस लाल किले के आस-पास के साथ नई दिल्ली और उत्तरी दिल्ली में ड्रोन उड़ाने पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी है. दिल्ली पुलिस के साथ कई पैरामिलट्री फोर्सेज की तैनाती की गई है. खुफिया एजेंसियों के अलर्ट में कहा गया है कि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद स्वतंत्रता दिवस पर आतंकी साजिश रच रहा है. यह आतंकी संगठन अपने मंसूबे को पूरा करने के लिए कई आतंकियों को जम्मू-कश्मीर पहुंचा चुका है. इसकी योजना है कि दिल्ली पहुंच कर आतंकी वारदात को अंजाम दें, जिससे एक बार फिर से दुनिया का ध्यान कश्मीर पर पड़े.

भारतीय खुफिया एजेंसियों को आतंकी संगठनों के इस मंसूबे की भनक लग गई है. एक तरफ जहां जैश के कई आतंकवादी 15 अगस्त के दिन घाटी और दिल्ली में विघ्न डालने के काम में लगे हैं वहीं भारतीय खुफिया एजेंसियां, सेना और पैरामिलट्री फोर्सेज उनके इस मंसूबे को नाकाम करने में लगी हुई है



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *