हिंदी न्यूज़ – केरल में बाढ और बारिश का कहर जारी, मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की -Kerala continues to reel under floods

भाषा

Updated: August 14, 2018, 11:01 PM IST

केरल में मूसलाधार बारिश नदियों में उफान और भूस्खलन की घटनाओं के कारण संकटपूर्ण स्थिति बनी हुई है और अब तक 39 लोग आपदा की भेंट चढ़ चुके हैं.

मुख्यमंत्री पी विजयन ने संवाददाताओं से कहा कि लगातार जारी बारिश को देखते हुए राज्य सरकार ने ओणम का सरकारी समारोह आयोजित ना करने का फैसला किया है और उस पर खर्च होने वाली राशि का इस्तेमाल अब राहत अभियानों में किया जाएगा. मुख्यमंत्री ने सरकारी और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों से मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष में दो दिन का वेतन दान में देने की अपील की.

मौसम विभाग का अनुमान है कि 15 अगस्त को भी राज्य के कई क्षेत्रों में भारी बारिश जारी रहेगी. केरल के विभिन्न हिस्सों खासतौर से पहाड़ी जिलों – वायनाड और इडुक्की में आज सुबह भारी बारिश हुई. इडुक्की जिले का मनोरम सैलानी स्थल मुन्नार का बाकी हिस्सों से संपर्क लगभग टूट गया और जलस्तर बढ़ने के बाद मत्तूपेट्टी बांध के दो जलद्वार खोले जाने के साथ यातायात बाधित हुआ.

बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित वायनाड के कई इलाके पूरी तरह डूबे हुए हैं और जिले में बानसुरा बांध में जल स्तर आज सुबह पांच बजे तक 775.60 मीटर के स्तर पर पहुंच गया. अगर और पानी छोड़ा गया तो हालात बदतर हो जाएंगे.वायनाड में 13,461 लोग 124 शिविरों में रह रहे हैं. बहरहाल, चिंता की बात यह है कि इडुक्की जिले में मुल्लापेरियार बांध में जलस्तर बढ़ रहा है. बांध में जलस्तर 136.10 फुट पर पहुंच गया जबकि इसकी अधिकतम क्षमता 142 फुट है. अधिकारियों के मुताबिक बारिश से प्रभावित राज्य में 215 से ज्यादा भूस्खलन आए हैं जबकि राज्य सरकार ने 444 गांवों को बाढ़ ग्रस्त घोषित किया है.

शुरूआती आकलन के मुताबिक केरल को भारी बारिश के कारण 8,316 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. मौसम विज्ञानियों ने राज्य की कुछ जगहों पर 18 अगस्त तक भारी बारिश होने का अनुमान लगाया है. मछुआरों को समुद्र में ना जाने की चेतावनी दी गई है.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

 

और भी देखें

Updated: August 14, 2018 11:01 PM ISTकेरल में बाढ़ और बारिश का कहर जारी, मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *