हिंदी न्यूज़ – J&K: पूर्व मंत्री अंसारी ने महबूबा मुफ्ती के खिलाफ मोर्चा खोला, पार्टी छोड़ने की दी धमकी

J&K: पूर्व मंत्री अंसारी ने महबूबा मुफ्ती के खिलाफ मोर्चा खोला, पार्टी छोड़ने की दी धमकी

प्रभावशाली शिया नेता और पूर्व मंत्री इमरान अंसारी




Updated: July 2, 2018, 11:36 PM IST

प्रभावशाली शिया नेता और पूर्व मंत्री इमरान अंसारी ने सोमवार को पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती पर निशाना साधते हुये उन पर भाई-भतीजावाद फैलाने का आरोप लगाया. इमरान ने कहा, ‘महबूबा मुफ्ती ने पीडीपी को न केवल पार्टी के रूप में नाकाम किया बल्कि अपने दिवंगत पिता मुफ्ती मोहम्मद सईद के उन सपनों को तोड़ दिया जो उन्होंने देखे थे.’

उन्होंने महबूबा पर पार्टी और पूर्व पीडीपी-भाजपा गठबंधन सरकार में भाई-भतीजावाद का आरोप लगाया. उन्होंने राजनीति में नये उतरे तस्दुक मुफ्ती को इस साल कैबिनेट मंत्री बनाने और महबूबा के रिश्तेदार सरताज मदनी को पार्टी में महत्वपूर्ण पद देने के परोक्ष संदर्भ में कहा, ‘यह एक परिवार का शो बन गया था जिसे भाइयों, चाचाओं और अन्य रिश्तेदारों द्वारा चलाया जा रहा था. पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी ‘फैमिली डेमोक्रेटिक पार्टी’ बन गई है.’

ये भी पढ़ें: दोबारा ‘जन्नत’ जीतने में BJP की मदद करेंगे PDP के बागी नेता! 

पीडीपी अध्यक्ष के एक अन्य रिश्तेदार फारूक अंद्राबी को भी कुछ समय के लिये मंत्री बनाया गया था. इमरान ने दावा किया कि उन्होंने महबूबा से कई बार कहा था कि ये रिश्तेदार आपको अक्षम बनाएंगे लेकिन उन्होंने सरकार गिरने तक इस बात पर कोई ध्यान नहीं दिया. इमरान अंसारी पट्टन सीट से पीडीपी विधायक हैं जबकि उनके रिश्तेदार जादीबल क्षेत्र से पार्टी विधायक हैं.उन्‍होंने कहा कि परिवारराज खत्‍म होना चाहिए नहीं तो उनके लिए पार्टी में बने रहना मुश्किल होगा. उन्‍हें ऐसी पार्टी में जाने में कोई दिक्‍कत नहीं है जो जम्‍मू कश्‍मीर की भलाई और परिवार राज खत्‍म करने के लिए तैयार हो.

बता दें कि उनका बयान ऐसे समय में आया है जब खबरें आ रही हैं कि पीडीपी के कई नेता बगावत कर बीजेपी ज्वॉइन करने को तैयार हैं. पीडीपी के कई नेता बीजेपी में आना चाहते हैं. इसके लिए अंदर ही अंदर गुणा-गणित का खेल भी चल रहा है. फिलहाल अमरनाथ यात्रा के पूरे होने का इंतजार किया जा रहा है.

मौजूदा हालात में पीडीपी के कई नेता पार्टी से नाखुश हैं और सत्ता में दोबारा वापसी के लिए पूरी कोशिश कर रहे हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर में दोबारा वापसी करने के लिए बीजेपी इस मौके को जरूर भुनाना चाहेगी.

(भाषा इनपुट के साथ)

और भी देखें

Updated: June 20, 2018 08:37 PM ISTराम माधव ने बताया जम्‍मू कश्‍मीर में क्‍या होगा आगे का रास्‍ता

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *