हिंदी न्यूज़ – दिल्ली: MCD के कम्प्यूटर में सेंध लगाकर बनाए जा रहे थे नकली जन्मप्रमाण, CBI छापा/Fake birth certificate was made in Delhi in 2000 rupees

दिल्ली: MCD के कम्प्यूटर में सेंध लगाकर बनाए जा रहे थे नकली जन्मप्रमाण, क्राइम ब्रांच छापा

नकली जन्मप्रमाण पत्र

Anand Tiwari

Anand Tiwari

| News18Hindi

Updated: August 23, 2018, 9:22 PM IST

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने नकली जन्मप्रमाण पत्र बनाने वाले एक रैकेट का खुलासा किया है. पकड़े गए तीनो आरोपी साउथ ईस्ट दिल्ली में एक सेंटर के माध्यम से चोरी छुपे नकली जन्मप्रमाण पत्र बनाने का काम कर रहे थे. क्राइम ब्रांच के सूत्रों के मुताबिक पिछले दो साल में यह रैकेट करीब 500 से ज्यादा नकली जन्मप्रमाण पत्र बना कर मोटा पैसा कमा चुका है.

सरकारी कागज पर मुहर लगे इस नकली जन्मप्रमाण पत्र भी नंबर भी लिखा हुआ है, जिसे देखकर पता लगाना बहुत मुश्किल है कि यह नकली है. 2000 रुपए में नकली जन्मप्रमाण पत्र बनाने वाले आरोपी अनुपम, राजीव और करन इसे बनाने के लिए MCD के कम्प्यूटर सिस्टम में सेंध लगाई थी.

क्राइम ब्रांच के मुताबिक पकड़े गए करन की MCD में अच्छी पहचान थी. करन को नकली जन्मप्रमाण पत्र बनाने के न केवल सारे हथकंडे पता थे बल्कि उसको ये भी जानकारी थी कैसे MCD के जन्मप्रमाण पत्र बनाने वाले कम्प्यूटराईज सिस्टम में कैसे सेंध लगाकर जन्मप्रमाण बनाने का एक नंबर हासिल करना है.

पुलिस के मुताबिक पकड़े गए तीनों आरोपियों के सम्पर्क में ज्यादातर वो परिवार आते थे जो दिल्ली के बाहर के रहने वाले हैं और मध्यमवर्गीय या गरीब तबके से हैं. ये तमाम परिवार असली जन्मप्रमाण पत्र बनाने के लिए जरूरी दस्तावेज न होने के चलते इस रैकेट के जरिये 2000 रुपये में नकली जन्मप्रमाण पत्र बनवा लेते थे. क्राइम ब्रांच के डीसीपी ने बताया कि जो लोग नकली जन्मप्रमाण पत्र ले रहे थे उनको इसी जन्मप्रमाण पत्र के जरिए आधार कार्ड बनवाने में मदद मिलती थी.बता दें कि दिल्ली में जन्मप्रमाण पत्र बनाने के लिए बकायदा अस्पताल से बच्चे का जन्म तारीख , बच्चे के माता-पिता का नाम MCD के पास रिकॉर्ड में दर्ज किया जाता है. जिसके बाद MCD में ही ऑनलाइन अप्लाई करने के बाद आपका जन्मप्रमाण पत्र बनता है.

 

और भी देखें

Updated: August 20, 2018 09:32 PM ISTमेट्रो की एक्वा लाइन का ट्रायल शुरू, अगले महीने से सफर कर सकेंगे लोग

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *