हिंदी न्यूज़ – दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने के लिए AAP ने PM मोदी के पास भेजी 10 लाख चिट्ठियां AAP SEND 10 lakh letters to PM Modi to get Delhi full statehood

दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने के लिए AAP ने PM मोदी के पास भेजी 10 लाख चिट्ठियां

दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने के लिए AAP ने PM मोदी के पास भेजी 10 लाख चिट्ठियां

भाषा

Updated: August 27, 2018, 9:09 PM IST

आम आदमी पार्टी (आप) के विधायकों ने सोमवार को दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने की मांग संबंधी 10 लाख पत्र प्रधानमंत्री कार्यालय को सौंपा. आप ने दिल्ली में इस मांग को लेकर जनता के बीच हस्ताक्षर अभियान चलाया था.

पार्टी की दिल्ली इकाई के संयोजक गोपाल राय के नेतृत्व में आप विधायकों ने प्रधानमंत्री कार्यालय को दिल्ली की जनता द्वारा हस्ताक्षरित पत्रों के साथ प्रधानमंत्री के नाम एक ज्ञापन भी सौंपा. इससे पहले पार्टी के विधायक और पार्टी के अन्य नेताओं ने मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के आवास पर जुटकर उन्हें इस मामले में जनता के रुख के बारे में बताया था. इसके बाद पार्टी विधायक चिट्ठियां लेकर प्रधानमंत्री को इन्हें सौंपने उनके आवास पर गये.

आप नेता गोपाल राय ने कहा, ‘‘दिल्ली की जनता को अपने ही राज्य में केन्द्र सरकार का सौतेला व्यवहार झेलना पड़ता है. हमने पूर्ण राज्य के दर्जे को लेकर एक जुलाई से अभियान शुरू किया था. इसी अभियान के तहत हमने प्रधानमंत्री को संबोधित करते हुए हस्ताक्षर अभियान भी चलाया था. हमने 10 लाख से ज्यादा हस्ताक्षर करवाए हैं.’’

उन्होंने कहा कि जनता ने पत्र में प्रधानमंत्री से दिल्ली वालो की भावनाओं का आदर करते हुए दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने की अपील की है. राय ने कहा कि लोकसभा चुनाव के समय दिल्ली के सातों सांसदों ने दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्ज़ा दिलाने की बात कही थी. बीते चार सालों में केन्द्र की भाजपा सरकार ने इस दिशा में अब तक कोई पहल नहीं की है. इसलिये दिल्ली के लोग खुद को ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं.ये भी पढ़ें-
नीरज चोपड़ा ने जीता गोल्‍ड, धरुन, सुधा और नीना को मिला सिल्‍वर
मुझे DMK में शामिल नहीं करने पर नतीजे भुगतेगी पार्टी: अलागिरी

और भी देखें

Updated: August 27, 2018 02:35 PM ISTअहमदाबाद में गिरी 4 मंजिला दो इमारतें, एक की मौत, मलबे से निकाले गए छह लोग

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *