हिंदी न्यूज़ – भीमा कोरेगांव हिंसा: पुलिस को शक, दूसरे केस से भी हैं वामपंथी विचारकों के कनेक्शन! government sources to news18 The raids by Pune Police not only linked to Bhima Koregaon

भीमा कोरेगांव हिंसा: पुलिस को शक, दूसरे केस से भी हैं वामपंथी विचारकों के कनेक्शन!

(सांकेतिक तस्वीर)

News18Hindi

Updated: August 28, 2018, 11:40 PM IST

भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में गिरफ्तार व्यक्तियों के संबंध देशभर में हुए अन्य गंभीर हिंसाओं से भी हो सकते हैं. प्रारंभिक जांच के बाद पुलिस को शक है कि गिरफ्तार व्यक्तियों के संबंध दूसरे मामलों में भी हो सकते हैं जिनका खुलासा जल्द हो सकता है. सरकारी सूत्रों के मुताबिक, वामपंथी विचारकों की हुई गिरफ्तारी केवल भीमा-कोरेगांव हिंसा से ही नहीं, बल्कि अन्य मामलों से भी जुड़ी हुई हो सकती है.

बता दें भीमा-कोरेगांव हिंसा के मामले में मंगलवार को पुणे पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए देश भर में कई शहरों में एक साथ छापेमारी कर 5 सामाजिक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने आरोपियों के घरों से उनके लैपटॉप, मोबाइल फोन और कुछ दस्तावेज़ ज़ब्त किए है. पुणे पुलिस का दावा है की आरोपियों के तार कई बड़े नक्सलियों से जुड़े हो सकते है.

महाराष्ट्र में पुणे से सटे भीमा कोरेगांव में इस साल की शुरुआत में भड़की हिंसा के मामले में पुलिस ने मंगलवार को देश के विभिन्न हिस्सों में छापेमारी की. पुलिस ने इस दौरान माओवादियों से संबंध रखने के शक में और प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश में कथित भागीदारी के लिए हैदराबाद में रह रहे क्रांतिकारी लेखक और माओवादी विचारक वरवर राव समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

पुणे की एक पुलिस टीम ने वरवर राव के रिश्तेदार और दोस्तों के घर में तलाशी के बाद गिरफ्तार किया है. वरवर को मेडिकल चेक-अप के लिए सरकार संचालित गांधी अस्पताल ले जाया गया है. उन्हें पुणे में स्थानांतरित करने से पहले यहां एक अदालत के समक्ष पेश किए जाने की संभावना है.ये भी पढ़ें-
भीमा कोरेगांव हिंसा: जानें कौन हैं वरवर राव? माओवादियों से क्या है कनेक्शन?
भीमा कोरेगांव मामला: देशभर में छापे और 5 वामपंथी विचारक अरेस्ट, जानें अब तक क्या-क्या हुआ?

और भी देखें

Updated: August 28, 2018 06:02 PM ISTमील का पत्थर साबित होगी भारत की अंतरिक्ष योजना: जितेन्द्र सिंह

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *