हिंदी न्यूज़ – भारत का रूस से मिसाइल और ईरान से तेल खरीदना ‘टू प्लस टू’ का मुख्य मुद्दा नहींः पोम्पिओ-Buy missile from russia and oil from iran is not the main issue of two plus two

भारत का रूस से मिसाइल और ईरान से तेल खरीदना 'टू प्लस टू' का मुख्य मुद्दा नहींः पोम्पिओ

माइक पोम्पियो

भाषा

Updated: September 5, 2018, 10:46 AM IST

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने कहा कि भारत का रूस से मिसाइल रक्षा प्रणाली और ईरान से तेल खरीदना ‘‘टू प्लस टू’’ वार्ता का हिस्सा होगा लेकिन बातचीत मुख्य रूप से इस पर केंद्रित नहीं होगी. पोम्पिओ और रक्षा मंत्री जिम मैटिस भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ कल होने वाली बैठक में हिस्सा लेने के लिए दिल्ली रवाना हो गए हैं. दोनों देशों के बीच यह पहली ‘‘टू प्लस टू’’ वार्ता है.

ये भी पढ़ेंः रूस से मिसाइल खरीदा तो भारत पर प्रतिबंध न लगाए जाने की कोई गारंटी नहींः पेंटागन

पोम्पिओ ने कहा, ‘भारत का रूस से मिसाइल रक्षा प्रणाली और ईरान से तेल खरीदना वार्ता का हिस्सा होगा. यह संबंधों का हिस्सा है. ये सारी बातें वार्ता के दौरान ज़रूर आएंगी लेकिन मैं नहीं सोचता हूं कि बातचीत इन मुद्दों पर केंद्रित रहेगी.’ ऐसी संभावना है कि भारत बातचीत के दौरान अमेरिका को बताएगा कि वह एस-400 ट्रियुम्फ वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली खरीदने के लिए रूस के साथ 40,000 करोड़ रुपये का सौदा करने वाला है.

पोम्पिओ ने कहा, ‘आधे दर्जन से अधिक ऐसी चीजें हैं जिस पर इस वार्ता में हम आगे बढ़ना चाहते हैं. ये फैसले महत्वपूर्ण हैं. ये फैसले संबंधों के लिहाज से निश्चित ही महत्वपूर्ण हैं लेकिन हम रणनीतिक बातचीत के दौरान उन मुद्दों को सुलझाते हुए खुद को नहीं देखते हैं और इस दौरान इन्हें सुलझाने का इरादा भी नहीं है.’ये भी पढ़ेंः भारत को 14 साल में सबसे सस्ती कीमत पर तेल देगा ईरान

उन्होंने कहा, ‘ ये ऐसी चीजे हैं जो बड़ी और रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण हैं और अगले 20, 40 और 50 सालों तक रहेंगी. ये ऐसे विषय हैं जिन पर मैं और मैटिस बात करेंगे.’’ पोम्पिओ ने पूर्व में ‘टू प्लस टू’ वार्ता के दो बार स्थगित होने पर भी खेद जताते हुए कहा, ‘मैं खेद प्रकट करता हूं, दूसरी बार मेरी गलती थी. मुझे प्योंगयांग जाना था. लेकिन रक्षा मंत्री मैटिस और मैं अब इस पर आगे बढ़ने को लेकर आशान्वित हैं.’

और भी देखें

Updated: September 04, 2018 08:23 PM IST‘पांच का प्रश्न’ में जानें खबरों से उठते बड़े सवाल और उनके जवाब

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *