हिंदी न्यूज़ – पाकिस्तान आतंकवाद खत्म करे तो हम भी ‘नीरज चोपड़ा’ की तरह पेश आएंगेः बिपिन रावत If Pakistan Stops Terrorism, we will be like Neeraj Chopra, says Bipin Rawat

पाकिस्तान आतंकवाद खत्म करे तो हम भी 'नीरज चोपड़ा' की तरह पेश आएंगेः बिपिन रावत

सेना प्रमुख बिपिन रावत

भाषा

Updated: September 5, 2018, 11:54 PM IST

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने बुधवार को कहा कि अगर पाकिस्तान आतंकवाद का सफाया करे तो भारतीय सेना भी उसके साथ नीरज चोपड़ा की तरह पेश आएगी. बता दें कि एशियन गेम्स में जैवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल जीतने वाले नीरज चोपड़ा ने जीत के बाद आगे बढ़कर कांस्य जीतने वाले पाकिस्तानी खिलाड़ी से हाथ मिलाया था. नीरज चोपड़ा की यह तस्वीर काफी वायरल हुई थी और सोशल मीडिया पर उनके इस कदम की काफी तारीफ भी हुई थी. (एशियन गेम्स की इस तस्वीर ने जीते भारत-पाकिस्तान के दिल)

एशियन गेम्स में मेडल जीतने वाले सेना के खिलाड़ियों के सम्मान समारोह में रावत ने कहा कि कश्मीर में 2017 में हालात पहले की तुलना में बेहतर हुए थे और 2018 में और भी बेहतर हुए हैं. जब उनसे पूछा गया कि क्या भारत-पाक सीमा पर खेल भावना का प्रदर्शन नहीं किया जा सकता? इसके जवाब में उन्होंने कहा, “उन्हें पहला कदम उठाना होगा. उन्हें आतंकवाद रोकना होगा. वो आतंकवाद रोकेंगे तो हम भी नीरज चोपड़ा जैसे हो जाएंगे.”

एशियन गेम्स में चीनी खिलाड़ी को सिल्वर और पाकिस्तानी खिलाड़ी अर्शद नदीम को ब्रॉन्ज मेडल मिला था. पोडियम में चोपड़ा ने नदीम से हाथ मिलाया था जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर खासी वायरल हुई थी.

वहीं, सेना से जुडे खिलाड़ियों ने देश के लिए बेहद सफल रहे एशियाई खेलों में 69 पदकों में से 11 जीते हैं. इस जीत को रावत ने “सिर्फ ट्रेलर” करार देते हुए कहा है कि टोक्यो में होने वाले 2020 ओलंपिक में पूरी फिल्म दिखेगी.रावत ने में कहा,‘‘ मैं पूरे दल को बधाई देना चाहता हूं और मैं सिर्फ पदक विजेताओं के बारे में बात नहीं कर रहा हूं. कुछ ने पदक जीते और कुछ के प्रदर्शन में कमी रह गयी लेकिन मुझे उम्मीद है कि वे कड़ी मेहनत कर रहे हैं. एशियाई खेलों सिर्फ एक ट्रेलर दिखा है और आपको ओलंपिक के दौरान पूरी फिल्म देखने को मिलेगी. यह मिशन ओलंपिक के लिए हमारा प्रयास है.’’

सेना प्रमुख ने कहा कि उन्हें आगामी बड़े खेल आयोजनों से और ज्यादा पदकों की उम्मीद है. उन्होंने कहा, ‘‘ इन खेलों में भारतीय सेना के 73 प्रतिनिधि थे, जिसमें 66 एथलीट और सात कोच शामिल थे. हमने 4 स्वर्ण और 4 रजत और 3 कांस्य पदक सहित 11 पदक जीते. मुझे और भी उम्मीद थी लेकिन मैं निराश नहीं हूं. मुझे पता है कि वे कड़ी मेहनत करेंगे, देश के लिए कई और पुरस्कार जीतने के लिए और अधिक मेहनत करेंगे.’’

और भी देखें

Updated: September 05, 2018 08:08 PM ISTVIDEO: ढाबे में बर्तन धोनी वाली इस बेटी ने एशियन गेम्स में जीता मेडल

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *