हिंदी न्यूज़ – Bharat Bandh Over Rising Fuel Prices on 10th September by congress and 18 other parties

देश में पेट्रोल और डीजल के बढ़ रहे दाम और किसानों की फसलों के वाजिब दाम और ऋण माफी के मुद्दे पर कांग्रेस ने 10 सितंबर यानी सोमवार को भारत बंद का आह्वान किया है. कांग्रेस को इस भारत बंद पर 18 अन्य दलों का समर्थन मिल चुका है.

सोमवार को होने वाले भारत बंद के बारे में जानें सारी जरूरी बातें…

क्यों है भारत बंद?
कांग्रेस ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार को घेरने के लिए आगामी 10 सितंबर को ‘भारत बंद’ आह्वान किया है. पार्टी का कहना है कि उसने अन्य विपक्षी पार्टियों से बात की है और ज्यादातर ने इसमें साथ देने का वादा किया है.यह भी पढ़ें: भारत बंद: कांग्रेस बोली- TMC का रुख विरोधाभासी

कांग्रेस ने सामाजिक संगठनों और सामाजिक कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे ‘भारत बंद’ का समर्थन करें. पार्टी के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने कहा था, ‘आज देश का कोई वर्ग खुश नहीं है. मंहगाई की मार ने सभी की कमर तोड़ दी है. पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम से सब परेशान हैं. हिंसा का माहौल भी है. हर कोई परेशान है.’

भारत बंद का समय
कांग्रेस का कहना है कि ‘सोती हुई सरकार को जगाने के लिए’ उसकी ओर से आह्वान किए गया ‘भारत बंद’ सुबह नौ बजे से दिन में तीन बजे तक होगा ताकि आम जनता को दिक्कत नहीं हो.

कौन से दल कर रहे हैं समर्थन
पार्टी सूत्रों का कहना है कि ‘भारत बंद’ के लिए समाजवादी पार्टी , बहुजन समाज पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, डीएमके, तृणमूल कांग्रेस, राष्ट्रीय जनता दल, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, जनता दल सेक्युलर, राष्ट्रीय लोकदल, झारखंड मुक्ति मोर्चा, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना और कई अन्य दल समर्थन कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें:  पेट्रोल-डीजल की कीमतों के खिलाफ कांग्रेस का बंद, सड़क पर उतरे दिग्विजय

इन राज्यों में होगा भारत बंद
ओडिशा:
 कांग्रेस द्वारा ‘भारत बंद’ के मद्देनजर ओडिशा सरकार ने सभी स्कूलों को 10 सितम्बर तक बंद रखने का शनिवार को निर्देश दिया है. स्कूल एवं जन शिक्षा सचिव पी के मोहापात्रा ने जिला कलेक्टरों को लिखे गए एक पत्र में निजी एवं सरकारी सभी स्कूलों को 10 सितंबर यानी सोमवार को बंद रखने को कहा है. इससे पहले राज्य सरकार ने सभी जिला कलेक्टरों को निर्देश दिया था कि वह इस प्रस्तावित हड़ताल के दौरान जिले में कानून व्यवस्था बनाए रखना सुनिश्चित करें.

कर्नाटक: राज्य में कांग्रेस और जेडी (एस) की सरकार है. जेडी(एस) ने बंद का समर्थन किया है. इसके साथ ही  कर्नाटक रक्षण वेदिके, केएसआरटीसी, बीएमटीसी, ओला और उबर ड्राइवर्स ने भी इसका समर्थन किया है. इसके साथ ही प्राइवेट टैक्सी ओनर्स एसोसिएशन, टूर और ट्रैवेल टैक्सी ऑटो ड्राइवर ऑटो एसोसिएशन ने भी बंद का समर्थन किया है.

पश्चिम बंगाल: पश्चिम बंगाल में कांग्रेस ने सत्तारूढ़ तृणमूल पर हमला बोलते हुए कहा कि भारत बंद पर उनका रुख ‘अपने आप में विरोधाभासी’ है. कांग्रेस में देश में बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दामों के विरोध में 10 सितंबर को भारत बंद करने की घोषणा की है. कांग्रेस के राज्य अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि पेट्रोल और डीजल पर केंद्र द्वारा लगाए गए कड़े उत्पाद शुल्क एक ‘आर्थिक आपदा’ है जिससे आम जनता बेहद तकलीफ में जी रही है.

यह भी पढ़ें:  कांग्रेस के 10 सितंबर के ‘भारत बंद’ को NCP का समर्थन: तारिक अनवर

गोवा: कांग्रेस की गोवा इकाई ने कहा है कि वह ईंधन की बढ़ी कीमतों के विरोध में सोमवार को पार्टी द्वारा आहूत राष्ट्रव्यापी बंद में हिस्सा नहीं लेगी. गणेश उत्सव के पहले स्थानीय लोगों को कोई असुविधा नहीं हो, इसलिए यह फैसला किया गया है.

मध्य प्रदेश: कांग्रेस इकाई भी बंद करेगी. बंद के लिए समर्थन मांगने के लिए रविवार को भोपाल के आसपास दिग्विजय सिंह आस-पास लोगों से मिल रहे थे.

बिहार: राजद राज्य में बंद का समर्थन करेगा. दरअसल, लालू प्रसाद की पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने घोषणा की कि राजद जनवरी के महीने में नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार को ‘उखाड़ फेंकने’ के लिए ‘जेल भरो’ आंदोलन करेगी.

महाराष्ट्र: विपक्षी दलों ने बढ़ती कीमतों के खिलाफ भारत बंद का समर्थन करने के लिए सत्तारूढ़ बीजेपी के सहयोगी शिवसेना से अपील की. उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली पार्टी ने शनिवार रात, बीजेपी के ‘अच्छे दिनों’ पर सवाल उठाते हुए पोस्टर लगाए थे.

तमिलनाडु: डीएमके समेत तमिलनाडु में कई विपक्षी दलों ने भारत बंद का समर्थन किया है. राज्य में वामपंथी दलों के नेताओं ने बंद का समर्थन करने की रणनीति पर चर्चा करने के लिए शुक्रवार को एक बैठक की.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस का यू-टर्न: टिकट के लिए FB-ट्विटर के अपने ही फरमान को किया निरस्त

हरियाणा: हरियाणा में INLD की ओर से शनिवार को ही भारत बंद बुलाया गया था. रोहतक, पानीपत, सिरसा, अंबाला और कैथल जिलों में दुकानें बंद थी. हालांकि भारत बंद के चलते सुरक्षा व्यवस्था के इंताजामात रखे गए हैं. हालांकि INLD के बंद पर  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने आरोप लगायाथा  कि इनेलो घड़ियाली आँसू बहा रही है.

केरल: केरल में अभी लोग बाढ़ से उबरने की कोशिशों में लगे हुए हैं. कांग्रेस ने यहां बंद का आह्वान किया है हालांकि विपक्षी दल मुस्लिम लीग का कहना है वह इस बंद का समर्थन नहीं करेगी. एमके मुनीर ने कहा कि उनकी पार्टी ने कांग्रेस से नेतृत्व से कहा है कि वह राज्य में बंद का आह्ववान न करे.

तेलंगाना: जिला कांग्रेस कमेटी (डीसीसी) ने भारत बंद को सफल बनाने के लिए लोगों और पार्टी के कैडर से अपील की है. तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव नमिंदला श्रीनिवास और शहर के कांग्रेस अध्यक्ष कटला श्रीनिवास ने कहा कि बढ़ती हुई कीमतों के चलते निचले और मध्म वर्ग के लोग बहुत ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं. जन सेना के  प्रमुख पवन कल्याण ने भी बंद को समर्थन दिया है.  (एजेंसी इनपुट के साथ)

यह भी पढ़ें: 10 सितंबर के भारत बंद पर कांग्रेस को मिला 18 दलों का समर्थन, तृणमूल कांग्रेस ने दूरी बनाई

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *