हिंदी न्यूज़ – समलैंगिकता पर पादरी ने अदालत में की नारेबाजी, कहा- इससे आएगी आपदा-Same-sex relationships would lead to natural calamities: Tamil Nadu-based pastor

समलैंगिकता पर पादरी ने अदालत में की नारेबाजी, कहा- इससे आएगी आपदा

पुलियाकुलम गिरिजाघर के फादर फेलिक्स जेबासिंह जिला अदालत परिसर पहुंचे और गलियारे में खड़े होकर नारेबाजी शुरू कर दी और लोगों से समलैंगिक विवाह का समर्थन न करने की अपील की.

भाषा

Updated: September 10, 2018, 8:32 PM IST

उच्चतम न्यायालय के समलैंगिकता को अपराध की श्रेणी से बाहर करने के फैसले के खिलाफ सोमवार को एक पादरी ने कोयंबटूर अदालत परिसर में नारेबाजी की. समलैंगिकता पर ऐतिहासिक फैसले के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उन्होंने दावा किया कि समलैंगिक विवाह से प्राकृतिक आपदा आ सकती है.

पुलियाकुलम गिरिजाघर के फादर फेलिक्स जेबासिंह जिला अदालत परिसर पहुंचे और गलियारे में खड़े होकर नारेबाजी शुरू कर दी और लोगों से समलैंगिक विवाह का समर्थन न करने की अपील की.

पुलिस के उन्हें घेरने के बाद भी फादर ने चीखते हुए कहा, ‘धारा 377 (भादंवि की) पर उच्चतम न्यायालय के फैसले का समर्थन ना करें. ईसा मसीह आ रहे हैं. उनका आगमन निकट है. इस तरह की शादी से समाज पूरी तरह बर्बाद हो जाएगा. परम पिता ने सोडोम और गोमोरा के शहर आग और सल्फर से बर्बाद कर दिए थे क्योंकि वह समलैंगिकता का समर्थन करते थे… समलैंगिकता का समर्थन ना करें.’

पुलिस ने बताया कि पादरी को निकट स्थित पुलिस थाने ले जाया गया और बाद में छोड़ दिया गया. गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने छह सितंबर को 158 वर्ष पुराने कानून को निरस्त करते हुए समलैंगिकता को अपराध की श्रेणी से बाहर कर दिया था.फैसले का लेस्बियन, गे, बॉयसेक्युल, ट्रांसजेंडर और क्वियर (एलजीबीटीक्यू) समुदाय के सदस्यों और विभिन्न राजनीतिक दलों ने स्वागत किया था.

और भी देखें

Updated: September 10, 2018 07:24 PM ISTVIDEO: कोटद्वार में दुकान बंद कराने को लेकर व्यापारी से उलझे कांग्रेसी

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *