हिंदी न्यूज़ – ‘स्वच्छता ही सेवा आंदोलन’ का शुभारंभ करेंगे मोदी-Modi will launch ‘Cleanliness Service Movement’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 सितंबर से ‘स्वच्छता ही सेवा आंदोलन’ के शुभारंभ की बुधवार को घोषणा की है. प्रधानमंत्री ने इस आन्दोलन को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि बताया. साथ ही उन्होंने एक वीडियो संदेश में सभी लोगों से ‘स्वच्छता ही सेवा’ आंदोलन का हिस्सा बनने की अपील की है. जिससे ‘स्वच्छ भारत’ बनाने के प्रयासों को मजबूत किया जा सके.

यभी पढ़े: ‘साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल’… इंडोनेशिया में मोदी के लिए बजा ये गाना

मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘15 सितम्बर को सुबह 9.30 बजे हम एक साथ आएंगे और ‘स्वच्छता ही सेवा आंदोलन’ की शुरुआत करेंगे. ’’ उन्होंने कहा कि वे उन लोगों के साथ बातचीत करना चाहता हैं, जिन्होंने स्वच्छ भारत मिशन को मजबूत करने के लिए जमीन पर दृढ़ता से काम किया है. प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार दो अक्‍टूबर को बापू की जयंती का महत्व इसलिये भी है क्योंकि यह उनकी 150वीं जयंती का अवसर होगा.

साथ ही स्वच्छ भारत अभियान को 2 अक्टूबर से पूरे चार साल हो जाएंगे. मोदी ने कहा कि चार साल पहले ही 2 अक्टूबर को गांधी जी की जयंती के अवसर पर स्वच्छ भारत अभियान की शुरूआत की गयी थी . उनका मानना है कि, स्वच्छ भारत मिशन ने स्वच्छ भारत के बापू के सपने को पूरा करने के उद्देश्य से एक ऐतिहासिक जन आंदोलन ने कामयाब 4 साल पूरे किए हैं.यभी पढ़े: PM मोदी ने की जनता से पर्यावरण बचाने की अपील, कहा- प्लास्टिक प्रदूषण को हराना है

प्रधानमंत्री मोदी उन सभी को सलाम करते हैं, जिन्होंने स्वच्छ भारत के लिए काम किया है. सवा सौ करोड़ देशवासियों ने मिलकर पूज्य बापू के सपने को पूरा करने के लिए एक आंदोलन प्रारंभ किया था. प्रधानमंत्री ने कहा कि बापू का ही आशीर्वाद है कि बीते 4 साल में सभी भारतवासी स्वच्छ क्रांति के दूत बन चुके हैं. साथ ही देश के हर कोने में समाज के हर वर्ग के लोगों ने स्वच्छ भारत के उनके सपने को पूरे करने के लिए जो भी कर सकते हैं वह सब किया है.

प्रधानमंत्री ने उन सभी की भागीदारी की भी प्रशंसा किया है. उन्होंन कहा कि सरकार ने इस दौरान की देशभर में 8.5 करोड़ शौचालय तैयार करवाए हैं. मोदी ने जोर दिया कि आज 90 फीसदी भारतीयों को शौचालय की सुविधा उपलब्ध है. इससे पहले केवल 40 फीसदी लोगों के पास ये सुविधा थी. आज भारत के सवा चार लाख से भी अधिक गांव, 430 जिले और 2800 नगर, शहर और कस्बे और 19 राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश खुले में शौच से मुक्त घोषित हो चुके हैं.

उन्होंने कहा कि विश्व स्वस्थ्य संगठन ने शौचालय के उपयोग से 3 लाख मासूमों का जीवन बचने की संभावना जताई है. मोदी ने कहा कि 15 सितंबर से 2 अक्टूबर तक बहुत ही विशाल स्तर पर ‘स्वच्छता ही सेवा’ कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा. उन्होंने बाद में सिलसिलेवार ट्वीट कर स्वच्छता अभियान में सहयोग करने को लेकर बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन, अक्षय कुमार, आध्यात्तिक गुरू माता अमृतानंदमयी सहित अन्य लोगों का शुक्रिया अदा किया.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *