हिंदी न्यूज़ – समलैंगिकों से भेदभाव के आरोप पर टेक महिंद्रा ने कर्मचारी को नौकरी से निकाला-Tech Mahindra sacks employee over discrimination with homosexuals

आईटी कंपनी टेक महिंद्रा ने समलैंगिकों से भेदभाव के मामले में एक कर्मचारी को नौकरी से निकाल दिया है. नौकरी से निकाला गया कर्मचारी एग्‍जीक्‍यूटिव के पद पर था और एक पूर्व कर्मचारी ने उस पर भेदभाव का आरोप लगाया था. कंपनी की ओर से ट्विटर पर बताया गया कि जांच के बाद कर्मचारी को तुरंत प्रभाव से कंपनी से हटा दिया गया है.

इसमें लिखा गया, ‘मामले की जांच से निकले निष्‍कर्ष के बाद संबंधित कर्मचारी को तुरंत प्रभाव से कंपनी से हटा दिया गया है. टेक महिंद्रा में हम विविधता और समावेश में विश्‍वास करते हैं और दफ्तर में किसी भी प्रकार के भेदभाव की निंदा करते हैं.’

कंपनी के इस ट्वीट को खबर लिखे जाने तक 469 रीट्वीट और 1030 लाइक मिल चुके हैं. एक ईमेल के जरिये गौरव प्रोबिर प्रमाणिक ने 2015 की घटना का हवाला देते हुए पूर्व प्रबंधक के खिलाफ आरोप लगाए थे. प्रमाणिक ने कहा था कि प्रबंधक ने प्रशिक्षण कक्ष में किसी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी.

इसके बाद पिछले सप्‍ताह कंपनी ने तत्कालीन पूर्व प्रबंधक के खिलाफ समलैंगिकों के शोषण और भेदभाव के आरोपों की गहनता से जांच करने की बात कही थी. यह मामला उच्चतम न्यायालय की सहमति से बनाये गए समलैंगिक संबंधों को अपराध के दायरे से बाहर करने के फैसले के कुछ दिन बाद ही सामने आया था.

महिंद्रा समूह के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने कहा था कि कंपनी इस मामले की जांच कर रही है और वह तथ्यों का पता लगाएगी तथा यह सुनिश्चित करेगी कि इस मामले में उचित फैसला किया जा सके. महिंद्रा ने ट्वीट किया था, ‘हमारी आचार संहिता इस मामले में स्पष्ट है. टेक महिंद्रा मामले की जांच कर रही है. इस बारे में उचित कार्रवाई की जाएगी.’

कंपनी के पूर्व कर्मचारी द्वारा अपने पूर्व टीम प्रमुख के खिलाफ आरोपों को सार्वजनिक किए जाने के बाद टेक महिंद्रा को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था. इसके बाद कंपनी ने अलग से ट्वीट कर कहा था कि इस मामले की गहन जांच की जा रही है. इस बारे में आवश्यक कदम उठाए जाएंगे.

(भाषा इनपुट के साथ)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *