हिंदी न्यूज़ – ‘भीख का कटोरा लेकर ना आएं’ कहने पर विवाद, जावड़ेकर ने वापस लिया बयान – HRD Minsiter Prakash Javadekar Wants to Withdraw his words, said- ‘Don’t Come With A Bowl’

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने हाल ही में एक ऐसा बयान दिया, जिस पर काफी विवाद हो गया. अब उन्होंने अपने भाषण में इस्तेमाल किए विवादित शब्द वापस ले लिए हैं. जावड़ेकर ने रविवार को कहा कि वह अपने उस भाषण से दो अनुपयुक्त शब्द ‘भीख का कटोरा’ वापस लेना चाहते हैं. उन्होंने इस बात का पक्ष लिया था कि शिक्षण संस्थान सरकारी मदद के अलावा अपने पूर्व छात्रों से मदद मांगे.

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने कहा कि वह अपने इन शब्दों को वापस लेना चाहते हैं. उन्होंने दावा किया कि शुक्रवार को पुणे में एक स्कूल में उनके भाषण के दौरान ‘अनजाने में’ इन शब्दों का इस्तेमाल हो गया था.

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक उन्होंने कहा था, “दरअसल ये किसी भी संस्थान के पूर्व छात्र होते हैं जो अपने शिक्षण संस्थान को वापस लौटाते हैं लेकिन कुछ ऐसे स्कूल हैं जो मदद की मांग करते हुए कटोरा लेकर सरकार के पास पहुंचते रहते हैं.”

यह भी पढ़ें – केंद्रीय विद्यालयों में प्रेयर विवाद से केंद्र ने किया किनारा, कहा- हमारा कुछ लेना-देना नहींजावड़ेकर ने एक बयान में कहा, “मेरे भाषण को गलत तरीके से पेश किया गया. सरकार बड़े पैमाने पर शिक्षा में निवेश कर रही है और पिछले चार सालों में बजट प्रावधानों में 70 फीसदी की वृद्धि की गई है. उसी के साथ पूर्व छात्रों को भी स्कूलों और कॉलेजों के विकास में योगदान करने की जरुरत है.”

उन्होंने कहा, “दुनियाभर में यह परिपाटी है. मेरा मतलब यह नहीं था कि सरकार मदद नहीं करेगी. मेरा बस यह तात्पर्य था कि सरकारी मदद के अलावा पूर्व छात्रों को भी मदद के लिए आगे आना चाहिए.”

यह भी पढ़ें : BJP का ‘विजन 2022’ पेश, जावड़ेकर बोले- विपक्ष के पास नहीं है नेता, नीति और रणनीति

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *