हिंदी न्यूज़ – ̔ कमजोर ̓ समाजवादी पार्टी से गठबंधन क्यों करें मायावती-अमर सिंह, Commentary of Amar Singh on samajwadi party. Major alliance, Mulayam singh yadav, BSP, Mayawati, shivpal yadav,

उत्तर प्रदेश में महागठबंधन  को लेकर बयान जारी कर बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने सियासी पारा बढ़ा दिया है. लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस  के दौरान 2019 के लोकसभा चुनावों में सम्मानजनक सीटों की बात कहते हुए सपा को अल्टीमेटम दे दिया है.

मायावती के इस बयान पर अमर सिंह ने भी चुटकी ली है. उनका कहना है कि इस वक्त सपा की ताकत आधी रह गई है. मायावती भला उस पार्टी से गठबंधन क्यों करेंगी, जिसकी ताकत आधी रह गई है.

अमर सिंह ने तंज कसते हुए कहा कि शिवपाल यादव सपा से बाहर हो गए हैं. अपना एक अलग मोर्चा बना लिया है. मुलायम सिंह यादव भी सपा में रहते हुए कुछ भी नहीं रह गए हैं. न वो प्रचार में होते हैं और न ही पोस्टर में उनका नाम होता है. सवाल उठता है कि वह सपा में तो हैं, लेकिन क्या हैं.

फाइल फोटो.

अमर सिंह ने साथ ही कहा, ‘शिवपाल यादव भी अब सपा में नहीं हैं. ऐसे में वो कहेंगे कि आपके या न मुलायम हैं और न शिवपाल हैं तो आपकी ताकत आधी रह गई है. इसलिए सम्मानजनक तो ये है कि आप 10-15 सीट ले लो.’

वहीं इस बारे में सपा प्रवक्ता अब्दुल हफीज गांधी का कहना है कि समाजवादी पार्टी ने हर किसी को आदर दिया है. हमारा मकसद बीजेपी को हराना है और इसे पूरा करने के लिए हम यूपी में महागठबंधन करने जा रहे हैं. महागठबंधन में सभी को सम्मानजनक सीटें दी जाएंगी.

फाइल फोटो.

दूसरी ओर समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के प्रवक्ता दीपक मिश्र का कहना है कि अमर सिंह एकदम सही कह रहे हैं. आज सपा की ताकत आधी भी नहीं रह गई है. सपा में अब 1/5 ताकत रह गई है. सपा ने जहां पहले 37 सांसद संसद में भेजे थे, आज उतनी सीट पर उम्मीदवार खड़े करने के लाले पड़ गए हैं. रहा सवाल अमर सिंह का तो मोर्चे से उनका कोई लेना-देना नहीं है.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *