हिंदी न्यूज़ – आॅनर किलिंग बिहार की लड़की की हत्या पिता ने बंगाल में की | bihar girl killed by father in bengal honor killing

पश्चिम बंगाल के पूर्वी बर्धमान ज़िले में नेशनल हाईवे 2 के पास एक लाश पड़ी मिली. 31 अगस्त को मिली यह लाश एक लड़की की थी जिसका चेहरा बुरी तरह ज़ख्मी था और पहली नज़र में लगता था कि किसी भारी पत्थर या भारी चीज़ से चेहरे पर वार किया गया हो. 19 साल की लड़की की इस लाश के पास से कोई और चीज़ नहीं मिली इसलिए अब पहला काम था शिनाख्त करना. शिनाख्त की तरकीब सोच रही पुलिस को भी कहां भनक थी कि इस लाश के पीछे कौन सी कहानी है.

हाईवे पर जैसे ही लाश पाई गई तो पुलिस ने आनन फानन में एंबुलेंस बुलवाकर लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की तैयारी की. एंबुलेंस आने तक पुलिस लाश के कपड़ों और आसपास तलाशी ले रही थी कि कोई आईडी कार्ड, मोबाइल फोन या कोई भी ऐसी चीज़ शायद हो जिससे मकतूल या कातिल का कोई सुराग मिले. उस वक्त इस शक से भी इनकार नहीं था कि हाईवे पर यह लड़की किसी सड़क हादसे की शिकार हुई हो.

लाश किसकी थी? हत्या थी तो किसने किसे मारा? कुल मिलाकर उस वक्त तक ये सवाल ही गुत्थी बने हुए थे. यह सवाल तो दूर था कि क्यों मारा गया. लाश पर या उसके आसपास ऐसा कुछ नहीं मिला जिससे लाश की पहचान की जा सके. लाश के शरीर पर कपड़े ठीक हालत में थे इसलिए रेप का शक नहीं था. बहरहाल, कुछ देर में एंबुलेंस आई और लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया.

पुलिस उस इलाके में कुछ पूछताछ करने के लिए हाईवे पेट्रोलिंग टीम से भी संपर्क कर रही थी और हाईवे के संदिग्ध अपराधियों के बारे में इनपुट लेने के लिए भी जुगत लगाई जा रही थी. इसी कार्यवाही के बीच, पोस्टमार्टम हुआ और पुलिस को बताया गया कि लड़की को गला घोंटकर मारा गया है और उसके चेहरे पर किसी मोटी धार वाले औज़ार या हथियार से हमला किया गया है. फॉरेंसिक डॉक्टर के पास एक बात और बताने के लिए थी जो एक अहम सुराग साबित होने वाली थी –

ये एक्सीडेंट नहीं है, हत्या का मामला है, ऐसा माना जा सकता है. और हां इंस्पेक्टर, एक बात और जो आपके काम की है. जब इस लाश को पोस्टमार्टम के लिए ओटी में लाया जा रहा था तब स्ट्रेचर हैंडल करने वाले दो लड़कों ने एक बात पर गौर किया. पोस्टमार्टम के लिए लाते वक्त चूंकि लाश सिर्फ एक चादर में लिपटी होती है इसलिए स्ट्रेचर पर लाश की जांघ दिखी तो उन लड़कों ने देखा कि लाश की जांघ पर दो नंबर लिखे हुए थे. ये वो दो नंबर हैं, मुझे उम्मीद है कि ये अहम कड़ी साबित हो सकते हैं.

ये दो नंबर लेने के बाद पुलिस ने अपनी आंखों से लाश की जांघ पर लिखे नंबर देखे. अब पुलिस के हाथ अहम सुराग लग चुका था क्योंकि किसी लड़की की जांघ पर दो मोबाइल फोन नंबर लिखे होना अपने आप में कुछ अजीब था. पश्चिम बंगाल पुलिस ने उन दोनों नंबरों पर कॉल किया तो एक लड़के ने फोन उठाया. पुलिस ने एक मर्डर केस का हवाला देते हुए उसकी पहचान पूछी तो उसने बताया कि उसका नाम श्याम है.

Murder in Kolkata, bihar news, Mumbai news, honor killing in Kolkata, father killed daughter, कोलकाता में हत्या, बिहार समाचार, मुंबई समाचार, कोलकाता में आॅनर किलिंग, बेटी की हत्या

अब पुलिस ने श्याम को इस लाश के बारे में कुछ ज़रूरी बातें बताकर पूछा कि क्या वह बर्धमान या कोलकाता के पास किसी लड़की को जानता था. इस पर श्याम ने हामी भरी तो फोन कॉल के बाद पुलिस ने लाश की कुछ तस्वीरें श्याम को वॉट्सएप के ज़रिये भेजीं ताकि वह शिनाख्त कर सके क्योंकि श्याम मुंबई में था. तस्वीरें भेजने के बाद पुलिस ने श्याम को दोबारा फोन किया तो वह फोन पर ही रोने लगा. उसने कहा कि फोन पर वह क्या क्या बताएगा.

इसके बाद पुलिस ने मुंबई जाकर श्याम से पूछताछ करने का इरादा किया और अगले ही दिन पुलिस मुंबई में थी. श्याम मुंबई में एक ज्वैलरी शॉप पर काम किया करता था. श्याम से मुलाकात करने के बाद पुलिस के सामने पहले तो यह खुलासा हुआ कि लाश किसी रश्मि की थी. और कुछ ही देर में श्याम की ज़ुबान से एक लव स्टोरी सामने आई.

करीब दो ढाई साल पहले श्याम और रश्मि मुज़फ्फरपुर में रहने के दौरान एक दूसरे के करीब आ गए थे. दोनों का प्यार परवान चढ़ता रहा और दोनों छुप छुपकर मिलते रहे. समाज और जाति के बंधनों के चलते दोनों को पता था कि उनका रिश्ता उनके परिवार कबूल नहीं करेंगे लेकिन प्यार कब दुनिया के कायदे मानता है इसलिए दोनों ने एक दूसरे के साथ ज़िंदगी गुज़ारने का फैसला कर लिया था.

रश्मि 18 साल की हो चुकी थी तब श्याम और रश्मि ने भागकर शादी कर लेने का मन बनाया और एक रात परिवारों को चकमा देकर भागने की प्लैनिंग की. दोनों को इस बात की भनक थी कि रश्मि के परिवार को श्याम के साथ उसके मेलजोल के बारे में कुछ पता चल चुका था. दोनों अपने प्लैन के मुताबिक घर से भागकर मुज़फ्फरपुर रेलवे स्टेशन पर पहुंचे लेकिन उस रात ट्रेन देर से चल रही थी इसलिए स्टेशन पर इंतज़ार करना पड़ा.

Murder in Kolkata, bihar news, Mumbai news, honor killing in Kolkata, father killed daughter, कोलकाता में हत्या, बिहार समाचार, मुंबई समाचार, कोलकाता में आॅनर किलिंग, बेटी की हत्या

कुछ ही देर बाद दोनों को रश्मि और श्याम के घर वालों ने स्टेशन पर पकड़ लिया और खूब बहस व कहासुनी हुई. घर जाकर रश्मि के पिता मोहन ने उसे बेदर्दी से पीटा और श्याम के साथ किसी तरह का रिश्ता न रखने के लिए दबाव बनाया. रश्मि बेबस थी लेकिन उसके प्यार ने हार नहीं मानी थी. इधर, श्याम ने रश्मि को पाने के लिए तय किया कि वह कुछ अच्छी कमाई करे ताकि रश्मि के साथ अपनी दम पर सबसे दूर रह सके.

उसने कोशिशें कीं और उसे मुंबई में एक ठीक ठाक नौकरी मिल गई. इस दौरान श्याम और रश्मि की छुप छुपकर बातें हुआ करती थीं. रश्मि किसी पीसीओ या किसी सहेली के मोबाइल फोन से बात किया करती थी और श्याम ने दो नंबर उसे दे रखे थे. घर वालों को कुछ पता न चले इसलिए रश्मि ने ये दोनों नंबर किसी डायरी या कागज़ पर लिखने के बजाय अपनी जांघ पर लिख लिये थे. एक बार फिर दोनों ने भागकर शादी की प्लैनिंग की.

दोनों फिर भागे लेकिन फिर पकड़े गए और इस बार जो हंगामा हुआ, तो भीड़ भाड़ के सामने रश्मि ने श्याम से ही शादी करने का ऐलान कर दिया. ‘शादी करूंगी तो श्याम से ही, वरना किसी से नहीं.’ रश्मि का यह तेवर देखकर मोहन को उस वक्त बात संभालना ज़रूरी लगा. मोहन ने तब रश्मि से कह दिया कि उसे रिश्ता कबूल है और वह श्याम को दामाद मानने को तैयार है लेकिन इस तरह तमाशा करके नहीं बल्कि दोनों परिवारों की सहमति से कायदे से शादी करवाई जाएगी.

मोहन के विश्वास दिलाने के बाद रश्मि उसके साथ फिर घर लौट गई. श्याम मुंबई चला गया. अब मोहन ने श्याम और रश्मि को दूर करने के लिए एक नया दांव खेला और रश्मि व परिवार को लेकर कोलकाता शिफ्ट हो गया. यहां मोहन पहले की तरह टैक्सी ड्राइवर के तौर पर काम करने लगा और उसने अपनी गैर मौजूदगी में अपने बेटे राजा को रश्मि पर नज़र रखने के लिए गुपचुप ढंग से तैयार कर दिया था.

एक तरह से रश्मि को नज़रबंद करते हुए श्याम से दूर कर दिया गया था. फिर भी, रश्मि के पास श्याम के नंबर थे जिनके बारे में उसके घर वालों को कुछ नहीं पता था. वह मौका मिलते ही किसी तरह श्याम से बातचीत किया करती थी और जल्द ही कोई रास्ता निकालने के बारे में कहती. श्याम से शादी करने की ज़िद पर अड़े रहने और मना करने के बावजूद छुप छुपकर श्याम से बात करने को लेकर मोहन तैश में था.

Murder in Kolkata, bihar news, Mumbai news, honor killing in Kolkata, father killed daughter, कोलकाता में हत्या, बिहार समाचार, मुंबई समाचार, कोलकाता में आॅनर किलिंग, बेटी की हत्या

ये लव स्टोरी जब श्याम ने पुलिस को सुनाई तो सवाल यह उठा कि फिर कत्ल कैसे हुआ? श्याम ने कहा कि सच तो पूरी तरह उसे नहीं पता लेकिन इस कहानी के बाद शक तो यही है कि मोहन ने या तो खुद रश्मि का कत्ल किया होगा या किसी से करवाया होगा. श्याम के इस बयान के बाद पश्चिम बंगाल पुलिस मुंबई से कोलकाता पहुंची और पार्क सर्कस के पास किराये से रहने वाले टैक्सी ड्राइवर मोहन और उसके बेटे राजा को गिरफ्तार किया गया.

बीते 9 सितंबर को दोनों गिरफ्तार किए गए और मोहन ने कबूल कर लिया कि रश्मि को उसी ने मौत के घाट उतारा. मोहन ने हत्या की वजह बताते हुए कहा कि लड़की अपने प्रेमी से शादी करने की बात पर अड़ी हुई थी जबकि लड़की के परिवार को यह रिश्ता कतई पसंद नहीं था. इस इकबालिया बयान के बाद पुलिस ने इसे आॅनर किलिंग का मामला बताया. हालांकि कहानी के किसी किरदार का वास्तविक नाम ज़ाहिर नहीं किया गया लेकिन पुलिस ने मारी गई लड़की के पिता और भाई पर हत्या का केस दर्ज किया.

ये भी पढ़ें

रकीब को चाय पिलाकर बेहोश किया, फिर धड़ से काटकर अलग कर दिया सिर
मां के रेप-मर्डर केस में 22 साल बाद बेटी ने facebook से लगाया कातिल का पता
लड़की के साथ दो रातें बिताना चाहता था इसलिए टॉर्चर करता रहा एकतरफा आशिक
‘मेरे बाप ने हत्या करवाई लेकिन मैं प्रणय की निशानी को जन्म ज़रूर दूंगी’
नशीली दवा पिलाकर ब्लेड, पेचकस से मारा और फिर पत्थर से कुचला

PHOTO GALLERY : खबरदार! NetFlix की दीवानगी में कहीं आपके साथ न हो जाए आॅनलाइन फ्रॉड

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *