हिंदी न्यूज़ – केरल में 91 साल के बुजुर्ग ने बीवी की हत्या कर पुलिस को गुमराह किया | kerala old man killed wife and told false story to police

बर्दाश्त की एक इंतेहा हुआ करती है. कभी इंतेहा तक पहुंचने में कम वक़्त लगता है तो कभी ज़्यादा. कुट्टी को बरसों का वक्त लगा. रोज़ की खिटखिट से परेशान होकर आखिर उसने अपनी बीवी की जान ले ही ली. दादा ही नहीं बल्कि परदादा बनने की यानी 91 साल की उम्र में कुट्टी ने अपनी बीवी को बेरहमी से कत्ल ही नहीं किया बल्कि पुलिस को गुमराह करने की भी पूरी साज़िश रची.

केरल के त्रिशूर में रहने वाले चेरियाकुट्टी की कहानी एक सामान्य आदमी की ज़िंदगी की कहानी है. 91 बरस की उम्र तक पहुंचते पहुंचते वह जीवन में काफी कुछ देख चुका था. पांच बेटे और दो बेटियों के अपने अपने परिवार थे. सभी अपने परिवारों के साथ अलग अलग घरों में रहा करते थे और कुट्टी अपनी 80 साल की बीवी कोचू के साथ वेलिकुलंगरा इलाके में अपने दो मंज़िला घर में रह रहा था. घर में अच्छी खासी जगह थी, अंदर भी और बाहर भी.

तीन दिन हुए थे मां को गुज़रे, तभी उसकी प्रेगनेंट बीवी को उतारा गया मौत के घाट

पिछले कई सालों से पारिवारिक और घरेलू मामलात को लेकर बुज़ुर्ग दंपति के बीच मनमुटाव बना ही रहता था. कोचू का मिज़ाज भी चिड़चिड़ापन वाला था इसलिए रोज़मर्रा की खिटखिट चलती रहती थी. कुट्टी गुस्सैल स्वभाव का था और वह अपने जीवन में कई बार कोचू पर हाथ उठा चुका था. दोनों के बच्चे अक्सर दोनों से मिलने और हालचाल जानने आया करते थे और घरेलू मामलों व दोनों के मनमुटाव को सुलझाने की कोशिश किया करते थे.चूंकि सहने की एक हद हुआ करती है इसलिए कुट्टी के जीवन में वो पल आने ही वाला था जहां उसे कानून का मुजरिम कहलाना था. 26 अगस्त 2018 की रात कोचू के साथ फिर एक बार कुट्टी का झगड़ा हुआ. झगड़ा इतना बढ़ा कि कुट्टी ने हाथ उठा दिया. झगड़ा रुका नहीं तो गुस्से में आकर कुट्टी ने कोचू को दोनों हाथों से मारते हुए ज़ोर का धक्का दिया. धक्के से कोचू का सिर कमरे में रखी स्टील की अलमारी से ज़ोर से टकराया और इस चोट के कारण कोचू किसी पुतले की तरह ज़मीन पर गिर पड़ी.

Kerala murder case, murder in Thrissur, husband killed wife, Thrissur news, kerala news, केरल हत्याकांड, त्रिशूर में हत्या, पत्नी की हत्या, त्रिशूर समाचार, केरल समाचार

कोचू के ज़मीन पर गिरने के वक्त कुट्टी चीखता रहा — ‘रोज़ एक ही बात, वही चिकचिक, वही झिकझिक. चुप ही नहीं होती साली.. इससे तो मर ही जाए तो चैन मिले..’ इसी तरह बड़बड़ाते हुए कुट्टी ने कुछ मिनट बाद देखा कि कोचू ज़मीन से उठी ही नहीं. तब उसने कोचू की नब्ज़ जांची और सांस भी तो उसे यकीन हो गया कि कोचू मर चुकी है. उसे यह भी एहसास हो चुका था कि गुस्से में आकर उसने अपनी बीवी की हत्या कर दी.

अब कुट्टी के अंदर बेचैनी पैदा हुई और वह सोचने लगा कि क्या करे? उसने फोन उठाया और अपने बड़े बेटे को इस बारे में बताना चाहा लेकिन नंबर डायल करने से पहले ही उसने फोन छोड़ दिया. कुट्टी को लगा कि मां की हत्या के मामले में बच्चे उसका साथ नहीं देंगे इसलिए उसने तय किया कि अब जो करना है, उसे ही करना है. उस रात यह हत्या घर की दूसरी मंज़िल पर हुई थी. दूसरी मंज़िल की बालकनी से कुट्टी ने बाहर झांककर देखा.

वो बोलता जा रहा था ‘I Love You’ और मारता जा रहा था हंसिया

रात का वक्त था इसलिए कोई आवाजाही नहीं थी. इसके बाद कुट्टी ने कोचू की लाश को एक चादर में लपेटा और कसकर बंद करने के बाद उसे घसीटकर बालकनी में लाया. एक नज़र फिर आसपास देखकर उसने चादर में लिपटी लाश को बालकनी से नीचे फेंक दिया. फिर वह सीढ़ियों से उतरकर बाहर गिरी लाश के पास पहुंचा. घर के कंपाउंड में एक शेड था जहां आग जलाने का इंतज़ाम था क्योंकि कुट्टी किसान था इसलिए उस शेड में लकड़ियां और फूस वगैरह पड़ा रहता था.

कुट्टी ने शेड में कुछ लकड़ियों को जलाने का इंतज़ाम किया. फिर वह कोचू की लाश को घसीटकर उस शेड में ले गया. कोचू के गले से कीमती हार उतारा क्योंकि वह जलता नहीं इसलिए उसे निकालकर पास ही एक गड्ढे में छुपा दिया. फिर उसने कोचू की लाश को जला दिया. रात भर चिता की तरह कोचू जलती रही और कुट्टी वहीं बैठा रहा. उसके मन में बहुत सी यादें घूम रही थीं लेकिन आखिरकार उसे कोचू से मुक्ति मिलने का एहसास था, पछतावा नहीं. इन यादों के बीच कुट्टी यह भी सोचता रहा कि आगे क्या करना है.

Kerala murder case, murder in Thrissur, husband killed wife, Thrissur news, kerala news, केरल हत्याकांड, त्रिशूर में हत्या, पत्नी की हत्या, त्रिशूर समाचार, केरल समाचार

बंगाल में मिली लाश की जांघ पर लिखे दो नंबरों से खुली बिहार की लव स्टोरी
रकीब को चाय पिलाकर बेहोश किया, फिर धड़ से काटकर अलग कर दिया सिर

अगली सुबह कुट्टी ने अपने बच्चों को फोन किया और बताया कि कल रात कोचू एक आॅटो लेकर उसकी बेटी के घर गई थी लेकिन वह अब तक लौटी नहीं. सारे बच्चों ने आपस में बातचीत की और यह पता चल गया कि कोचू किसी के घर नहीं गई. रात भर से गायब मानकर कुट्टी के एक बेटे ने अपनी 80 साल की मां के लापता होने की शिकायत पुलिस में दर्ज करवाई तो कोचू की तलाश शुरू हुई.

पुलिस कुट्टी के घर पहुंची तो कुट्टी ने वही बात कही कि कोचू कभी कभी आॅटो लेकर किसी बेटे या बेटी के घर जाया करती थी. पिछली रात भी वह उसी तरह गई थी लेकिन क्या हुआ, वह कहां गई, कुछ पता नहीं. पुलिस ने कुट्टी की उम्र देखते हुए बातों पर यकीन कर लिया और उसके बच्चों व आस पड़ोस में पूछताछ शुरू की. जब किसी घर और किसी शख्स से कोचू के बारे में कोई सुराग नहीं मिला तो पुलिस ने कुट्टी के घर की तलाशी लेने का इरादा किया.

कुट्टी ने पुलिस को यह कहकर रोकना चाहा कि घर में वह एक एक कोना देख चुका है लेकिन कोचू घर में नहीं है. पुलिस का कहना था कि उस रात कोचू को घर से जाते हुए किसी ने नहीं देखा और वह किसी के घर नहीं गई. किसी को उसके आने के बारे में भी नहीं पता था इसलिए इस घर की तलाशी लेना ज़रूरी है. तलाशी लेते हुए कुछ ही देर में पुलिस उस शेड में पहुंची तो सबूत मिल गए. जलने के बाद कुछ अवशेष बाकी थे.

पुलिस को कुछ हड्डियों और खोपड़ी के कुछ जले हुए टुकड़े राख में मिल गए. इसके बाद तफ्तीश शुरू हुई और 30 अगस्त की देर रात कुट्टी को पुलिस ने शक के आधार पर हिरासत में ले लिया. 31 अगस्त को फिर हुई पूछताछ में कुट्टी ने कबूल कर लिया कि उस रात एक झगड़े के दौरान उसी ने कोचू की जान ली और हत्या को छुपाने के लिए उसने यह सब किया. इस कबूलनामे के बाद कोर्ट ने कुट्टी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

ये भी पढ़ें

मां के रेप-मर्डर केस में 22 साल बाद बेटी ने facebook से लगाया कातिल का पता

PHOTO GALLERY : खबरदार! NetFlix की दीवानगी में कहीं आपके साथ न हो जाए आॅनलाइन फ्रॉड

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *