हिंदी न्यूज़ – CM केजरीवाल ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मिलने का समय मांगा

CM केजरीवाल ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मिलने का समय मांगा

(फाइल फोटो- मनीष सिसोदिया, अरविंद केजरीवाल, राजनाथ सिंह)




Updated: July 6, 2018, 9:20 PM IST

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने शुक्रवार को केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मिलने का समय मांगा जिससे कि वह दिल्ली में सत्ता टकराव पर सु्प्रीम कोर्ट के आदेश को लागू करवाने की अपील कर सकें. केजरीवाल ने कहा कि यह बहुत ‘‘ खतरनाक ’’ है कि केंद्र सरकार उपराज्यपाल को दिल्ली सरकार और केंद्र के बीच सत्ता टकराव पर उच्चतम न्यायालय के आदेश का पालन न करने की सलाह दे रही है.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘गृह मंत्रालय ने उपराज्यपाल को सलाह दी है कि वह सुप्रीम कोर्ट के आदेश के उस हिस्से को नजरअंदाज करें जो उपराज्यपाल की शक्तियों को केवल तीन विषयों तक सीमित करता है. यह खतरनाक है कि केंद्र सरकार उपराज्यपाल को माननीय  सुप्रीम कोर्ट  के आदेशों का पालन न करने की सलाह दे रही है.’’

उपराज्यपाल की शक्तियों में कटौती करने वाले न्यायालय के आदेश के बाद भी उनके कार्यालय और दिल्ली सरकार के बीच सेवा विभाग के नियंत्रण को लेकर विवाद लगातार बना हुआ है. केजरीवाल पर जवाबी हमला करते हुए उपराज्यपाल अनिल बैजल ने कहा कि गृह मंत्रालय की 2015 की यह अधिसूचना ‘‘लगातार वैध बनी हुई है’’ कि ‘सेवाएं’ संबंधी विषय दिल्ली विधानसभा के अधिकार क्षेत्र से बाहर है.

इस सप्ताह के शुरू में उच्चतम न्यायालय के ऐतिहासिक फैसले के चंद घंटे बाद दिल्ली सरकार नौकरशाहों के तबादलों और तैनाती के लिए एक नयी व्यवस्था लेकर आई और मुख्यमंत्री को स्वीकृति देने वाला प्राधिकार बना दिया था.हालांकि सेवा विभाग ने यह कहते हुए इसे मानने से इनकार कर दिया कि उच्चतम न्यायालय ने 2015 में जारी अधिसूचना को निरस्त नहीं किया है जिसमें तबादलों और तैनाती के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय को प्राधिकार बनाया गया था.

ये भी पढ़ें-
AAP को सर्विस डिपार्टमेंट देने को तैयार नहीं हैं एलजी, केजरीवाल ने कहा- इससे अराजकता फैलेगी
मॉब लिंचिंग के दोषियों का जयंत सिन्‍हा ने किया स्‍वागत, पहनाई माला

और भी देखें

Updated: July 06, 2018 07:56 PM ISTMURDER: दूसरे पति को छोड़ने को तैयार नहीं हुई प्रेमिका तो भड़क गया आशिक

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *