हिंदी न्यूज़ – जिस थाने के इलाके में हुई थी एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत, जानिए क्या है उसका हाल?- The police station where the death of 11 people happened has pathetic infrastructure

बुराड़ी के एक घर में एक साथ हुई 11 लोगों की मौत  इन दिनों देशभर में चर्चा का विषय बनी हुई है. ये मौतें हत्या थई या फिर आत्महत्या इसे लेकर अभी तक कुछ भी अभी तक साफ नहीं हुआ है. उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी थाने में एफआईआर दर्ज किया गया है. लेकिन बुराड़ी थाने की बदहाली को देख कर आपको यकीन नहीं होगा कि ये राजधानी दिल्ली का कोई पुलिस स्टेशन है.

यह नार्थ जिले का सबसे बड़ा थाना है. साल 2008 से पहले ये बुराड़ी चौकी हुआ करता था. उसके बाद इसे थाने की शक्ल दी गई. चौकी से ये थाना तो बन गया लेकिन थाना बनने के बाद इसके अच्छे दिन अब तक नहीं आए हैं.

किसी भी पुलिस स्टेशन में सबसे ज्यादा जरूरी अगर कोई चीज़ होनी चाहिए तो वो है हवालात. लेकिन शायद ये दिल्ली का इकलौता पुलिस स्टेशन है जहां हवालात नहीं है. इसके लिए थाने के स्टाफ को नॉर्थ जिले के तिमारपुर थाने की मदद लेनी पड़ती है.

इस थाने की जर्जर इमारत, सीलन भरे कमरे, गंदगी, किसी से छुपी नहीं है. पुलिस वालों के रहने सोने के लिए बैरक तक का इंतजाम ठीक से यहां नहीं है. पुलिस स्टाफ के खाने-पीने, चाय-नाश्ते के लिए कोई मेस तक नहीं है. यहां के पुलिस स्टाफ को खाना अपने घर से लाना होता है या फिर वो खाने के लिए होटल या ढाबे जाते हैं.

बुराड़ी थाने का बुरा हाल

यही नहीं बुराड़ी थाने में बारिश के मौसम में ज़हरीले सांप तक आ जाते है. पिछले साल यहां के SHO के कमरे से सांप निकला था. एक कमर्चारी को सांप काट भी चुका है. नॉर्थ जिले में सबसे ज्यादा आपराधिक मामले भी इसी थाने में दर्ज होते हैं. पर आज तक इस थाने की सुध किसी ने नहीं ली.

ये भी पढ़ें:
अब नेशनल टेस्टिंग एजेंसी लेगी NET, NEET और JEE के एग्जाम, छात्र चुन सकेंगे तारीखें
पंजाबः शादी का चूड़ा उतरने से पहले नशे की चपेट में आई महिला, थाने में लेती दिखी ड्रग्स

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *