हिंदी न्यूज़ – योगेंद्र यादव के रिश्तेदार के अस्पतालों पर छापे, नीरव मोदी को भुगतान से जुड़े हैं तार-IT raids at Yogendra Yadav’s Sister Nursing Home, It has connection with Nirav Modi

आयकर विभाग ने हरियाणा के रेवाड़ी में एक अस्पताल समूह के विभिन्न परिसरों से करीब 22 लाख रुपये नगद बरामद किए हैं. इससे पहले यह सूचना मिली थी कि अस्पताल समूह ने गहने खरीदने के लिए नीरव मोदी की फर्म को नकद भुगतान किया था.

अधिकारियों ने बताया कि टैक्स डिपार्टमेंट ने कलावती अस्पताल और कमला नर्सिंग होम, उसके मुख्य साझेदार डॉ. गौतम यादव और अन्य के आवास की तलाशी ली गई. बताया जा रहा है कि गौतम यादव स्वराज इंडिया के प्रमुख योगेंद्र यादव की बहन डॉ. नीलम यादव के बेटे हैं.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “तीन परिसरों की तलाशी आयकर विभाग की हरियाणा जांच शाखा की टीमों द्वारा की जा रही हैं. करीब 40 टैक्स अफसरों की टीम और पुलिसकर्मियों की एक टीम ने इस काम में हिस्सा लिया है.”

अधिकारियों के अनुसार, टैक्स डिपार्टमेंट ने नीरव मोदी ग्रुप से मिली सूचनाओं के आधार यह कार्रवाई की है. नीरव मोदी दो अरब के पीएनबी धोखाधड़ी मामले में फरार है. जांच में पाया गया है कि गौतम यादव ने हीरा कारोबारी की कंपनी से ज्वैलरी खरीदने पर साढ़े छह लाख रुपये में से सवा तीन लाख रुपये नकद में भुगतान किया था.उन्होंने बताया कि तलाशी के दायरे में डॉ. नरेंद्र सिंह यादव भी थे और यादव परिवार के यहां से 22 लाख रुपये मिले.

एक अधिकारी ने कहा, “किसी भी व्यक्ति के हाथों में वर्तमान नकद सीमा दो लाख रुपये है और 22 लाख रुपये की इस नकद राशि के स्रोत की जांच की जा रही है.”

जब आयकर विभाग के आरोपों के बारे में योगेंद्र यादव से पूछा गया तो उन्होंने कहा, “सवाल यह है कि क्या यह राशि बिना किसी लेखा-जोखा की है? मैं अस्पतालों के खातों के बारे में नहीं जानता.”

विभाग ने योंगेंद्र यादव के इन आरोपों का खंडन किया कि विभाग की छापेमारी टीमों ने अस्पताल और आईसीयू सील कर दिया.

अधिकारियों ने कहा कि अस्पतालों समेत तलाशी लिए गए परिसरों के सभी सीसीटीवी चालू रखे गए थे और उन्होंने तलाशी प्रक्रिया की रिकार्डिंग भी की है.

योगेंद्र यादव ने यह भी आरोप लगाया है कि उन्हें धमकाने और उनका मुंह बंद करने की मंशा से छापे मारे गए हैं क्योंकि उन्होंने किसानों के लिए उचित फसल दाम के लिए तथा हरियाणा में उस शहर में शराब की दुकानों के खिलाफ आंदोलन छेड़ा था. दो दिन पहले ही उनकी नौ दिवसीय पदयात्रा समाप्त हुई थी.

इस बीच भाजपा की हरियाणा इकाई के उपाध्यक्ष राजीव जैन ने कहा, “यादव का आरोप बेबुनियाद है. उनके आरोपों में कोई सच्चाई नहीं है. किसी का धमकाने का सवाल ही कहां है. यदि आयकर विभाग को किसी के खिलाफ कुछ मिला है तो उसे अपना काम करने दीजिए, सच्चाई सामने आ जाएगी.”

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *