BJP MLA Sanjiv Singh taking political lesson from RJD Chief Lalu prasad Yadav in Ranchi Jail – जेल में चाचा लालू से राजनीति सीख रहे भाजपा विधायक, भाई के कत्ल के हैं आरोपी

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव इन दिनों चारा घोटाले में रांची की सीबीआई कोर्ट से सजा सुनाए जाने के बाद रांची के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में सजा काट रहे हैं। जेल में बेद होने के बावजूद लालू अक्सर खबरों में बने हुए हैं। फिलहाल उनकी चर्चा जेल में राजनीतिक दांव-पेंच सिखाने के रूप में हो रही है। खबर है कि बिहार की राजनीति के धुरी रहे और कभी केंद्र में किंग मेकर की भूमिका में रहे लालू इन दिनों बीजेपी के एक विधायक को सियासी दांव-पेंच सिखा रहे हैं। इस विधायक का नाम संजीव सिंह है जो धनबाद के झरिया से बीजेपी के विधायक हैं। संजीव सिंह अपने ही चचेरे भाई नीरज सिंह की हत्या के आरोपी हैं। ये दोनों नेता अक्सर होटवार जेल में बातें करते नजर आते हैं। दोनों जेल के एक ही अपर डिवीजन वार्ड में रह रहे हैं।

बता दें कि भाजपा विधायक संजीव सिंह के पिता स्वर्गीय सूर्यदेव सिंह और लालू प्रसाद यादव के बीच घनिष्ठ संबंध रहे हैं। 1980 के दशक में लालू प्रसाद और सूर्यदेव सिंह ने बिहार विधान सभा में करीब-करीब एक साथ ही विधायकी शुरू की थी। ये दोनों एक ही पार्टी से विधायक बने थे। लिहाजा, एक ही राजनीतिक घराने से भी ताल्लुक रखते थे। इसीलिए, संजीव सिंह लालू यादव को चचा कहकर संबोधित करते हैं। दोनों नेताओं के बीच अक्सर देश-दुनिया की बातें होती हैं। बिहार और झारखंड की राजनीति पर भी चर्चा होती है। मंगलवार (30 जनवरी) को जब संजीव सिंह झारखंड विधान सभा के बजट सत्र में भाग लेने विधान सभा पहुंचे तो उन्होंने पत्रकारों को बताया कि वे अक्सर लालू यादव से राजनीतिक मुद्दों पर बातें करते हैं। इसके अलावा घर-परिवार की भी बातें होती हैं।

गौरतलब है कि चारा घोटाले में दोषी करार देने के बाद से ही लालू यादव 23 दिसंबर, 2017 से इस सेल में बंद हैं जबकि संजीव सिंह 11 अप्रैल 2017 से ही जेल में बंद हैं। संजीव सिंह पर अपने चचेरे भाई और धनबाद के पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह समेत चार लोगों की हत्याकांड में आोरपी हैं। पिछले साल 21 मार्च को यह हत्याकांड हुआ था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *