BJP MP Gopal N Singh Party gave much importance to Yashwant Sinha and Shatrughan Sinha -बीजेपी सांसद ने कहा- पार्टी ने यशवंत और शत्रुघ्‍न को कुछ ज्‍यादा ही अ‍हमियत दे रखी थी

काफी समय से बगावती तेवर दिखाने के बाद आखिरकार यशवंत सिन्हा ने बीजेपी छोड़ दी। जिस पर बिहार से पार्टी के सांसद गोपाल नारायण सिंह ने उन पर निशाना साधा है। कहा है कि सरकार में पड़े पद की कामना पूरी न होने पर उन्होंने पार्टी छोड़ी।गोपाल नारायण सिंह ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा,”यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा का पार्टी ने बहुत ज्यादा अहमियत दे रखी थी। जिसने उन्हें घमंडी बना रखा था। मैं सोचता हूं कि बेटे के मंत्री बनने के बाद वह खुद बड़ा ओहदा चाहते थे।जब उनकी इच्छा पूरी नहीं हुई वे पार्टी के बारे में भला-बुरा कहने लगे।”
गौरतलब है कि यशवंत सिन्हा ने शनिवार(21 अप्रैल) को बीजेपी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। तर्क दिया था कि लोकतंत्र खतरे में है और वह इसके खिलाफ मुहिम जारी रखेंगे। यशवंत सिन्हा लंबे समय से बीजेपी के खिलाफ हमलावर रहे। शुरुआत में उन्होंने एक लेख लिखकर देश की अर्थव्यवस्था डूबने की बात कही थी। इसके बाद वे लगातार समय-समय पर बीजेपी नेतृत्व और केंद्र सरकार पर हमले बोलते रहे। यशवंत सिन्हा ही नहीं शत्रुघ्न सिन्हा भी बीजेपी के लिए अपने बयानों से मुसीबतें पैदा करते रहे हैं।

बड़ी खबरें

शत्रुघ्न सिन्हा अखिलेश यादव से लेकर अरविंद केजरीवालतो खुलेआम विपक्षी पार्टियों के नेताओं जैसे-अरविंद केजरीवाल और अखिलेश यादव की तारीफ भी कर चुके हैं। यशवंत सिन्हा ने भले ही बीजेपी से नाता तोड़ लिया है, मगर शत्रुघ्न सिन्हा अब भी पार्टी में बने हैं। उनका कहना है कि वह खुद पार्टी नहीं छोड़ेंगे भले ही बीजेपी बाहर कर दे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *