Congress make fun of PM Narendra Modi on mistake in Nepal Tour – सीता माता का नाम भी ठीक से नहीं लिख सकते नरेंद्र मोदी- प्रधानमंत्री की गलती पर कांग्रेस की चुटकी

quit

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को नेपाल पहुंचे। नेपाल पहुंचने के बाद पीएम मोदी सीधे जनकपुर में स्थित जानकी मंदिर पहुंचे और वहां विशेष पूजा अर्चना की। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने मंदिर परिसर में पीएम मोदी की आगवानी की। बता दें कि जनकपुर माता सीता का मायका है और जानकी मंदिर माता सीता को ही समर्पित है। पीएम मोदी मंदिर परिसर में करीब 45 मिनट रहे और स्थानीय मीडिया के अनुसार, पीएम मोदी ने मंदिर में विशेष पूजा शोदासोपचारा पूजा में भाग लिया। मंदिर में पीएम मोदी पूरे भक्ति भाव में दिखाई दिए, इस दौरान पीएम मोदी ने मंदिर के पुजारियों और अन्य संतों से तो मुलाकात की है, साथ ही मंदिर में चल रहे भजन कीर्तन में मंजीरा भी बजाया और सीताराम का जाप किया। मंदिर पहुंचने पर पीएम मोदी को सम्मान स्वरुप पगड़ी भी पहनायी गई। यहां मंदिर से निकलते वक्त प्रधानमंत्री वहां विजिटर्स डायरी में अपनी बात लिखी। डायरी में लिखे पीएम के इसी संदेश पर कांग्रेस ने उनकी चुटकी ली है।

संबंधित खबरें

दरअसल हुआ ये कि पीएम मोदी ने अपने संदेश में लिखा- ‘जनकपुर धाम जाने की मेरी लंबे समय की इच्छा पूरी हो गई है। यह मेरे लिए इस तीर्थस्थल पर आने का एक यादगार अनुभव है जो नेपाल और भारत के लोगों के दिल में एक विशेष स्थान रखता है।’ हालांकि पीएम मोदी ने डायरी में माता सीता (सिया) को गलती से ‘सीया’ लिख दिया।

पीएम की इसी गलती को कांग्रेस ने पकड़ लिया। कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री आरपीएन सिंह ने प्रधानमंत्री की चुटकी लेते हुए कहा कि, ‘पीएम जो सीता के नाम की दुहाई देते हैं वो पीएम सिया माता का नाम भी ठीक से नहीं लिख सकते?’

बता दें कि नेपाल का यह जानकी मंदिर भगवान राम की पत्नी सीता का जन्म स्थान माना जाता है। सीता की याद में यह मंदिर 1910 में बनाया गया था। तीन तल वाला यह मंदिर पूरी तरह पत्थर और संगमरमर का बना हुआ है और यह मंदिर 4860 से अधिक वर्ग फुट में फैला हुआ है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *