Congress President Rahul Gandhi to hold candlelight protest at India Gate, at midnight today, over Kathua and Unnao rape incidents – कठुआ और उन्‍नाव में गैंगरेप की घटनाओं के विरोध में आधी रात को इंडिया गेट से कैंडल मार्च निकालेंगे राहुल गांधी

उत्‍तर प्रदेश के उन्‍नाव और जम्‍मू-कश्‍मीर के कठुआ में हुई गैंगरेप की वारदातों के विरोध में कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी मार्च निकालेंगे। गुरुवार (12 मार्च) की मध्‍यरात्रि को नई दिल्‍ली के इंडिया गेट पर गांधी एक कैंडल मार्च का नेतृत्‍व करेंगे। राहुल ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए इस बात की जानकारी दी। उन्‍होंने लिखा, ”लाखों भारतीयों की तरह आज मेरा दिल भी दुखी है। भारत में महिलाओं के साथ ऐसा व्‍यवहार जारी नहीं रह सकता। इस हिंसा के खिलाफ और न्‍याय की मांग के लिए आज रात मेरे साथ इंडिया गेट पर एक शांतिपूर्ण कैंडल लाइट मार्च का हिस्‍सा बनिए।” इन दोनों घटनाओं के सामने आने के बाद देश में 2012 के निर्भया मामले जैसी बहस छिड़ गई है। उस समय भी दिल्‍ली में बड़ी संख्‍या में लोगों ने तत्‍कालीन सरकार के खिलाफ मार्च किया था।

राहुल गांधी ने कठुआ की घटना पर गुरुवार को ट्वीट भी किया था। उन्‍होंने लिखा था, ”आखिर कोई कैसे इतना जघन्‍य अपराध करने वाले अपराधियों का बचाव कर सकता है? कठुआ में आसिफा के साथ जो कुछ भी हुआ, वह मानवता के खिलाफ जुर्म है। दोषी को सजा मिलनी ही चाहिए। हम क्‍या बन गए हैं अगर हम एक मासूम बच्‍ची के साथ हुई बर्बरता में राजनीति घुसा रहे हैं?”

संबंधित खबरें

जम्मू के कठुआ जिले में रस्साना जंगलों से 17 जनवरी को एक आठ वर्षीय बच्ची आसिफा का शव बरामद हुआ था। बच्ची इससे एक सप्ताह पहले जंगल में घोड़ों को चराते हुए लापता हो गई थी। उसे एक मंदिर में कई दिन तक बंधक बनाकर रखा गया, उसे नशे में रखा गया, उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया और फिर हत्या कर दी गई।

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में भाजपा विधायक और अन्य पर लड़की के साथ कथित रूप से सामूहिक दुष्कर्म करने का आरोप है। अपने साथ हुए अपराध के मुद्दे को उठाने के लिए लड़की ने मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्महत्या की कोशिश की। उसके पिता को पुलिस ने उठा लिया। आरोप है कि उनकी बर्बर तरीके से पिटाई की गई और हिरासत में ही उनकी मौत हो गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *