Delhi CM Arvind Kejriwal, Nephew Vinay Bansal, Police Remand, Anti Corruption Bureau, PWD Scam, 10 crore scam, fake bills – पुलिस रिमांड पर अरविंद केजरीवाल का भतीजा, फर्जी बिल से 10 करोड़ की चपत का आरोप

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल के भतीजे विनय बंसल को कोर्ट ने दो दिनों की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। एंटी करप्शन ब्यूरो ने उसे लोक निर्माण विभाग में फर्जी बिलों के जरिए घोटाला करने के आरोप में 10 मई को गिरफ्तार किया था। बता दें कि विनय बंसल केजरीवाल के साढ़ू सुरेंद्र कुमार बंसल का बेटा है। सुरेंद्र कुमार बंसल का पिछले साल ही निधन हो गया था। विनय पर आरोप है कि उसने लोक निर्माण विभाग की सड़कों और सीवर के ठेके में धांधली की है और फर्जी बिलों के आधार पर विभाग को करीब 10 करोड़ रुपये की चपत लगाई है। एक गैर सरकारी संगठन की शिकायत पर एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने इसकी जांच शुरू की थी।

एसीबी सूत्रों के मुताबिक विनय बंसल पिता की कंपनी रेणु केस्ट्रक्शन में पार्टनर है। इस कंपनी द्वारा किए गए घोटाले की जांच एसीबी कर रही है। एसीबी ने मामले में सीएम केजरीवाल समेत अन्य के खिलाफ तीन प्राथमिकी दर्ज करवाई है। ये एफआईआर 9 मई, 2017 को दर्ज कराए गए थे। आरोप है कि मुख्यमंत्री के रिश्तेदार की इस कंपनी को नियमों से परे जाकर पीडब्ल्यूडी विभाग से सड़क निर्माण और सीवर के ठेके दिए गए।

संबंधित खबरें

जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि विनय बंसल ने जिस कंपनी से कच्चा माल खरीद की रसीद दिखाई है, वह नकली है। विनय बंसल ने कहा था कि माधवदेव कंपनी से उसने कच्चा माल खरीदा है लेकिन जांच में यह कंपनी कहीं नहीं दिखी। उधर, केजरीवाल सरकार ने आरोप लगाया है कि राजनीतिक बदले की भावना से गिरफ्तारी की गई है। विनय बंसल ने जो सड़क और सीवर का काम किया है, उसे आईआईटी रुड़की से सर्टिफिकेट मिल चुका है। बता दें कि रोड्स एंटी करप्शन ऑर्गनाइजेशन नाम की संस्था ने पीडब्ल्यूडी घोटाले का मुद्दा उठाया था और आरोप लगाया था कि प्रोजेक्ट की अनुमानित कीमत से 46 फीसदी कम कीमत पर टेंडर रेणु कंस्ट्रक्शन को दिया गया। इसके बाद मुनाफा कमाने के लिए कंपनी ने घटिया सामान प्रोजेक्ट में लगाए। पिछले साल आप के निष्कासित विधायक कपिल मिश्रा ने भी केजरीवाल के साढ़ू सुरेंद्र बंसल और आप सरकार में मंत्री सत्येन्द्र जैन पर साठगांठ कर फर्जी बिल पास कराने का आरोप लगाया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *