Hizbul commander from Burhan Wani brigade trapped in Shopian encounter-शोपियां मुठभेड़ः मारा गया आतंकी बना प्रोफेसर और हिजबुल कमांडर सद्दाम

जम्मू-कश्मीर में हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर और सेना के बीच मुठभेड़ में पांच आतंकियों के मारे जाने की खबर है। यह मुठभेड़ शोपिया में हुई। यहां पांच आतंकियों के छिपे होने की बात सामने आ रही थी। मुठभेड़ में हिजबुल कमांडल सद्दाम पादर के अलावा कश्मीर यूनिवर्सिटी से गायब होकर आतंकी बने प्रोफेसर मुहम्मद रफी भट के भी मारे जाने की सूचना है। सद्दाम इससे पहले मारे जा चुके बुरहान वानी का सहयोगी रह चुका है। यह बुरहान वानी बिग्रेड का आखिरी कमांडर बताया जाता है। मुठभेड़ में सेना के दो जवानों के घायल होने की भी खबर है। उधर प्रशासन ने एहतियातन दक्षिण कश्मीर में इंटरनेट सेवाएं बाधित कर दी हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक शोपियां के जैनापुरा क्षेत्र के बडीगाम में आतंकियों के छिपे होने की पुलिस को सूचना मिली थी। इस पर रविवार सुबह ही सुरक्षा बलों ने मोर्चा खोल दिया। इलाके की घेराबंदी कर पहले तलाशी अभियान शुरू किया। इस दौरान आतंकियो की ओर से गोलीबारी शुरू हो गई। जिसका जवाब सुरक्षाबलों ने देना शुरू किया तो यह मुठभेड़ में बदल गई। मुठभेड़ में राष्ट्रीय रायफल्स के दो जवान जख्मी हो गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बड़ी खबरें

बता दें कि एक दिन पूर्व शनिवार(पांच मई) को छत्ताबल में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को हलाक कर दिया था। उनकी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े होने की बात सामने आई थी।चार घंटे की मुठभेड़ के बाद सेना ने आतंकियों को मार गिराया था। मुठभेड़में मारे गए तीन आतंकवादियों में से एक की पहचान कश्मीरी युवक फयाज अहमद हम्माल के रूप में हुई थी। वह पिछले एक साल से दहशतगर्दी में सक्रिय था।पुलिस के मुताबिक आतंकी जम्मू-कश्मीर में कई स्थानों पर हमले की योजना बनाने में जुटे थे कि इसकी भनक लग जाने पर कार्रवाई में मार गिराया गया। बता दें कि सात मई को राज्य सरकार के दफ्तर जम्मू से श्रीनगर में शिफ्ट होने वाले हैं। आतंकवादी इस तिथि से पहले हमले की फिराक में थे। सात मई को राज्य सरकार के ऑफिस शीतकालीन राजधानी जम्मू से वापस श्रीनगर में फिर से खुलने वाले हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *