Home minister rajnath singh said that Lord Rama and Krishna have also done politics – राजनाथ सिंह ने बताया भगवान राम का राजनीतिक मकसद, बोले- राम और कृष्ण ने भी की है राजनीति

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में देश की राजनीति को लेकर बड़ा बयान दिया है। उनका कहना है कि भारत की आजादी के पहले से ही राजनीति देश का हिस्सा रही है और यहां तक कि भगवान राम और कृष्ण ने भी राजनीति की है। गृह मंत्री लखनऊ के दो दिवसीय दौरे पर हैं और इसके दूसरे दिन यानी 28 अप्रैल (शनिवार) को उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए कहा, ‘आजादी के पहले से ही राजनीति भारत का हिस्सा रही है। यहां तक कि भगवान राम और कृष्ण ने भी राजनीति की थी। भगवान राम का राजनीतिक उद्देश्य राम राज्य की स्थापना करना था। उन्होंने भक्ति भाव और उत्साह के साथ राजनीति की थी।’

कश्मीरी पंडितों का पुनर्वास के मुद्दे पर राजनाथ सिंह ने कहा कि यह मामला केंद्र सरकार की नजर में है और केंद्र जम्मू-कश्मीर की महबूबा मुफ्ती की सरकार से लगातार की इस मामले पर बातचीत कर रही है। सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार ने हर वर्ग हर समाज हर क्षेत्र के लिए योजनाएं शुरू की हैं। गरीबों, बेरोजगारों, दलितों, अति पिछड़ों के विकास पर सरकार काम कर रही है। उज्ज्वला जैसी योजना ने खासकर ग्रामीण महिलाओं को बहुत राहत दी है।

संबंधित खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चीन यात्रा को लेकर राजनाथ सिंह ने पीएम की काफी तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री सभी पड़ोसी देशों के साथ अच्छे रिश्ते रखना चाहते हैं। उन्होंने द्विपक्षीय संबंध को मजबूत बनाने के उद्देश्य से सभी पड़ोसी देशों की यात्रा की। चीन की उनकी यह यात्रा भी इसी उद्देश्य के साथ की गई। इसमें कोई अलग बात नहीं है। विपक्ष बिना वजह के पीएम पर निशाना साध रहा है।’

इसके अलावा उन्होंने शुक्रवार को कहा कि देश विरोधी हर ताकत के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। नक्सलियों के खिलाफ सरकार सख्त कार्रवाई कर रही है। आंतरिक सुरक्षा के मुद्दे पर राजनाथ ने कहा, “नक्सलियों के खिलाफ सरकार सख्त कार्रवाई कर रही है। केंद्रीय सुरक्षा बल कड़ा अभियान चला रहे हैं। नक्सल प्रभावित इलाकों को विकसित कर भटके लोगों को मुख्यधारा में लाने का प्रयास किया जा रहा है। केंद्र सरकार राज्य सरकारों के सहयोग से नक्सल प्रभावित क्षेत्रों का भी विकास कर रही है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *