in bihar & goa opposition demands governor to inviite single largest party to form govt – कर्नाटक दंगल में कूदे गोवा और बिहार, गवर्नर से की मांग- हमें दो सरकार बनाने का मौका

कर्नाटक की सियासी हलचल का इफेक्ट बिहार में भी पड़ा है। बिहार के पूर्व उपमुख्यंत्री तेजस्वी यादव ने कहा है कि शुक्रवार (18 मई) को उनकी पार्टी कर्नाटक में लोकतंत्र की हत्या किये जाने के विरोध में पटना में धरना प्रदर्शन करेगी। एक दिवसीय धरना के दौरान पार्टी के कई दूसरे नेता और कार्यकर्ता भी मौजूद रहेंगे। तेजस्वी यादव ने कहा कि वो बिहार के राज्यपाल से जल्दी मिलेंगे। राज्यपाल से मिलकर उनसे यह अपील करेंगे कि वो कर्नाटक की तर्ज पर ही बिहार की सबसे बड़ी पार्टी यानी राष्ट्रीय जनता दल को सरकार बनाने के लिए न्यौता दें।

दरअसल कर्नाटक में हुए विधानसभा चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला था। बीजेपी को इस चुनाव में सबसे ज्यादा 104 सीटें मिलीं। पार्टी बहुमत से 8 सीटें दूर रह गई। जिसके बाद कांग्रेस और जेडी(एस) ने गठबंधन कर राज्यपाल से इस गठबंधन को सरकार बनाने के लिए मौका देने को कहा लेकिन राज्यपाल ने गठबंधन के बजाए राज्य की सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी भारतीय जनता पार्टी को सरकार बनाने के लिए मौका दिया है। हालांकि यहां राज्यपाल ने 15 दिनों में कर्नाटक के सीएम येदियुरप्पा को बहुमत भी साबित करने को कहा है।

बड़ी खबरें

इधर अब लालू प्रसाद यादव के बेटे और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव इसी तर्ज पर बिहार के राज्यपाल से नीतीश सरकार को बर्खास्त करने और राज्य की सबसे बड़ी पार्टी यानी राजद को सरकार बनाने के लिए मौका देने की मांग करेंगे। बिहार में राजद के पास 80 सीटें हैं, जेडीयू के पास 71 जबकि भाजपा के पास 53 सीटें हैं। इस वक्त बिहार में भाजपा और जेडीयू गठबंधन की सरकार है।

इधर गोवा में भी विपक्ष ने राज्यपाल से मिलने की बात कही है। कांग्रेस नेता यतीश नाइक ने कहा कि 2017 के विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी ने 17 सीटें जीती थीं और राज्य की अकेली सबसे ज्यादा सीटें जीतने वाली पार्टी थी। लेकिन उस वक्त गवर्नर ने भाजपा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया, जबकि भाजपा के पास महज 3 सीटें थीं। इसलिए हमलोग राज्यपाल से आग्रह करेंगे कि वो कर्नाटक के तर्ज पर गोवा में हमें सरकार बनाने के लिए न्योता दें।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *