Karnataka Election 2018: Mega controversy erupts in Congress, Mehul Choksi lawyer given ticket, loyalist Brijesh Kalappa snubbed, Sidharamaiah – कर्नाटक: टिकट बंटवारे पर कांग्रेस में फूटी कलह, मेहुल चौकसी के वकील को टिकट पर भी बवाल

कर्नाटक विधान सभा चुनावों के लिए कांग्रेस ने रविवार (15 अप्रैल) को अपनी पहली लिस्ट जारी कर दी। इसमें 218 उम्मीदवारों के नाम का एलान किया गया है लेकिन टिकट बंटवारे पर कांग्रेस में घमासान छिड़ गया है। पार्टी के अंदर जारी कलह सतह पर आ गई है। कई कांग्रेसी नेताओं ने टिकट न मिलने से नाराज होकर लोकसभा में पार्टी के नेता और पूर्व रेल मंत्री मल्लिकार्जुल खड़गे के आवास पर विरोध प्रदर्शन किया है। टिकट से वंचित किए गए पार्टी नेता अंजनामूर्ति के समर्थक भी नाराज होकर विरोध-प्रदर्शन करने लगे। नेलमंगला के पास एनएच पर भी कांग्रेसियों ने टायर जलाकर विरोध किया। एक अन्य टिकट दावेदार नेता बृजेश कलप्पा ने भी ट्विटर पर अपनी नाराजगी जाहिर की है। माना जा रहा है कि सभा नाराज नेताओं ने मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष वी आर सुदर्शन भी टिकट नहीं दिए जाने से नाराज बताए जा रहे हैं। ऐसी चर्चा है कि सुदर्शन बीजेपी ज्वाइन कर सकते हैं। बेंगलुरू सिटी से पूर्व विधायक प्रसन्ना कुमार भी टिकट नहीं मिलने से नाराज हैं, उनके जेडीएस ज्वाइन करने की चर्चा है। कांग्रेस ने पीएनबी बैंक घोटाले के आरोपी मेहुल चौकसी के वकील को भी टिकट दिया है। इसका भी पार्टी के अंदर विरोध हो रहा है। उधर, बीजेपी कांग्रेस के विरोध के मद्देनजर कुछ लोगों को रिझाने की कोशिश में जुट गई है।

संबंधित खबरें

टिकट बंटवारे के मुताबिक मुख्यमंत्री सिद्धारमैया चामुंडेश्वरी सीट से ही चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने ट्वीट कर उत्तरी कर्नाटक के बाडामी विधान सभा क्षेत्र के लोगों का आभार जताया है, जिन्होंने सीएम से अनुरोध किया था कि बाडामी से चुनाव लड़ें। पार्टी ने सिद्धारमैया के बेटे यतीन्द्र को भी टिकट दिया है। वो वरुणा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। इस बीच, एआईएमआईएम ने कर्नाटक चुनाव में उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है। एआईएमआईएम अब जेडीएस को समर्थन देगी। बता दें कि जेडीएस और बसपा में पहले ही गठबंधन हो चुका है।

कांग्रेस ने टिकट बंटवारे में सामाजिक समीकरण का भी ख्याल रखा है। लिंगायत समुदाय से 40 लोगों को टिकट दिया है। इनके अलावा वोक्कालिगा समुदाय से 25, मुस्लिम समुदाय से 15 और 15 महिलाओं को भी टिकट दिया गया है। कांग्रेस ने सात मौजूदा एमएलसी और पांच ब्राह्मण विधायकों को भी दोबारा टिकट दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *