Kasganj Violence: New Video surfaces, showing Youth with ammunition in hands with Tiranga – कासगंज: नया वीडियो आया सामने, तिरंगा हाथ में लेकर गोलियां चलाते दिखे नौजवान

उत्‍तर प्रदेश पुलिस कासगंज हिंसा के एक और वीडियो की जांच कर रही है। यह वीडियो पिछले दो दिन में सामने आया है, जिसमें कथित तौर पर हिंदू लड़के कासगंज के मुस्लिम-बहुल इलाके में जाते दिख रहे हैं। दावा है कि यह वीडियो 26 जनवरी की सुबह का है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इस वीडियो को स्‍थानीय तहसील कार्यालय की छत से शूट किया गया है। वीडियो में लड़कों के हाथ में तिरंगे के अलावा लाठी-डंडे दिख रहे हैं। वीडियो के कुछ हिस्‍से में गोली चलने की आवाजें सुनाई दे रही हैं। टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस इस वीडियो के सामने आने के बाद नए एंगल से पूरी हिंसा की जांच कर रही है। कासगंज में गणतंत्र दिवस पर एक युवक की हत्या होने के बाद हिंसा फैल गई थी। युवक की हत्या के बाद आक्रोशित भीड़ ने तीन दुकानों, दो बसों और एक कार में आग लगा दी थी। जिला प्रशासन ने कहा कि उसने जिले में तनाव कम करने के लिए कई कदम उठाए। राज्य सरकार ने जिले के पुलिस अधीक्षक को हटा दिया है।

संबंधित खबरें

वीडियो में गोली चलने की आवाज साफ सुनी जा सकती है। नाम न छापने की शर्त पर एक वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी ने टीओआई से कहा, ”यह (वीडियो में दिख रही) वही जगह है जहां चंदन गुप्‍ता को गोली मारी गई थी।” अखबार ने पुलिस सूत्रों के हवाले से लिखा है कि ”वहां 50 से ज्‍यादा युवा थे और उनमें से एक के हाथ में भारतीय ध्‍वज था। कम से कम दो के पास रिवॉल्‍वर थी और बाकी लाठियों से लैस थे। कुछ लोग मुस्लिम आबादी वाले इलाकों की तरफ पत्‍थर चला रहे थे।”

देखें कासगंज हिंसा का नया वीडियो:

दूसरी तरफ, केंद्र सरकार ने मंगलवार (30 जनवरी) को कासगंज जिले की स्थिति पर प्रदेश सरकार से रिपोर्ट मांगी है। मंत्रालय ने प्रदेश सरकार से इसकी विस्तृत रिपोर्ट मांग कर पूछा है कि प्रदेश सरकार ने स्थिति से निपटने के लिए क्या-क्या कदम उठाए।

गृह मंत्रालय के नियंत्रण कक्ष के आंकड़ों के अनुसार हिंसा के आरोप में 118 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि किसी अप्रिय स्थिति से बचने के लिए जिले के संवेदनशील स्थानों पर पुलिस के अलावा दंगारोधी द्रुत कार्य बल को भी तैनात किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *