Mani Shankar Aiyar spotted at the AICC headquarters in New Delhi, BJP Spokesperson says the entire suspension was a lie – कांग्रेस दफ्तर में दिखे मोदी को नीच कहने पर निलंबित मणिशंकर अय्यर, बीजेपी भड़की

कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित किए जाने के करीब ढाई महीने बाद नेता मणिशंकर अय्यर शुक्रवार (23 फरवरी) को ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के दिल्ली स्थित मुख्यालय पर देखे गए, इस पर हड़कंप मच गया। बीजेपी ने कहा है कि मणिशंकर अय्यर का निलंबन एक झूठ था। मणिशंकर अय्यर को गुजरात चुनावों के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए ‘नीच’ शब्द का इस्तेमाल करने पर पार्टी से निलंबित किया गया था। हाल ही में कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने भी एक प्रेस वार्ता में कहा था कि मणिशंकर अय्यर कांग्रेस की तरफ को कोई बयान नहीं दे सकते हैं। पार्टी का उनसे कुछ भी लेना-देना नहीं है। लेकिन 24 अकबर रोड स्थित कांग्रेस के मुख्यालय पर मणिशंकर अय्यर के देखे जाने पर एक बार फिर बीजेपी की तरफ से एतराज जताया गया है। बीजेपी नेता शाजिया इल्मी ने अंग्रेजी में चल रही एक टीवी डिबेट में कांग्रेस पर तीखा हमला बोलते हुए जो कहा उसका मतलब यह था कि मणिशंकर अय्यर अगर पीएम मोदी को नीच कहते हैं तो इसका मतलब है कि राहुल गांधी उनका समर्थन करते हैं।

संबंधित खबरें

शाजिया इल्मी ने कहा कि कुछ भयानक गड़बड़ी जरूर है। निलंबन का पूरा मामला शर्मनाक था। अगर मणिशंकर अय्यर कांग्रेस से अलग नहीं किए जा सकते हैं पार्टी को हुर्रियत के अलगाववादी नेताओं के साथ संबंधों पर अपना स्टैंड लेना चाहिए। कांग्रेस को पाकिस्तान, भारत, भारत की विदेश नीति और भारत के सशस्त्र बलों को लेकर दिए गए मणिशंकर अय्यर के बयानों पर कायम रहना चाहिए। मणिशंकर अय्यर राहुल गांधी का भाषण लिखते हैं और अगर वह इतने ही अविभाज्य हैं तो इसका मतलब है कि अय्यर के नीच बाले बयान का राहुल गांधी समर्थन करते हैं। जब पत्रकार ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल से पूछा कि क्या मणिशंकर अय्यर ने फिर से पार्टी में वापसी कर ली है तो उन्होंने जवाब दिया- ”मैंने नहीं देखा, लेकिन उन्हें जरूर होना चाहिए, मैंने भी अखबार में पढ़ा है कि उन्हें देखा गया।”

कांग्रेस के एक और नेता शहजाद ने कहा- ”मेरे सूत्रों ने बताया कि मणिशंकर अय्यर अब भी उसी परिधि में हैं और कांग्रेस पार्टी के घेरे में काफी सम्मानित समझे जाते हैं।” वहीं कुछ कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि मणिशंकर अय्यर 24 अकबर रोड पर कोषाध्यक्ष मेतीलाल वोरा से मिलने आए थे। वहीं मणिशंकर अय्यर ने अपनी मुलाकात पर चुप्पी साध ली। ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष होने के अलावा मोतीलाल वोरा कांग्रेस की अनुशासन समिति के सदस्य भी हैं। इस समिति के दूसरे सदस्य एके एंटनी और सुशील कुमार शिंदे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *