MC Mary Kom Boxing Academy completed around two years back but waiting for Prime Minister Narendra Modi to formally inaugurate – दो साल पहले बनकर हो गया था तैयार, पीएम मोदी की वजह से अटका है मैरीकॉम का ड्रीम प्रोजेक्‍ट

पांच बार वर्ल्ड चैंपियन रह चुकीं महिला मुक्केबाज मैरीकॉम को अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को अंजाम तक पहुंचाने के लिए अब भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इंतजार है। दरअसल, मैरी कॉम ने मणिपुर की राजधानी इंफाल से 10 किलोमीटर दूर इंफाल वेस्ट जिले के लांगोल हिल्स में बॉक्सिंग एकेडमी खोलने का फैसला लिया था। तकरीबन दो साल पहले यह बनकर तैयार हो गया था, लेकिन औपचारिक उद्घाटन के लिए इसे अब भी पीएम मोदी का इंतजार है। इस बाबत नरेंद्र मोदी से आग्रह किया गया था, लेकिन अभी तक जवाब नहीं आया है। इस वजह से मैरीकॉम का ड्रीम प्रोजेक्ट अटका हुआ है। हालांकि, मैरीकॉम इसके बावजूद अपने एकेडमी को विस्तार देने में जुटी हैं। तीन एकड़ से ज्यादा क्षेत्र में फैले इस एकेडमी में फिलहाल 45 युवा मुक्केबाज बॉक्सिंग के गुर सीख रहे हैं। इनमें 20 लड़कियां भी हैं। तीन मंजिला इमारत में मुक्केबाजी को लेकर सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध हैं।

संबंधित खबरें

मैरीकॉम के पति और अकादमी के प्रबंध निदेशक ओनलर कारोंग ने कहा कि मैरीकॉम उस खेल को वापस कुछ देना चाहती हैं, जिसने उन्हें लोकप्रिय बनाया। एकेडमी का निर्माण उनका सपना सच होने जैसा है। उन्होंने बताया कि वह मणिपुर और देश के अन्य हिस्सों में एकेडमी खोलना चाहती हैं। ओनलर ने कहा, ‘अत्याधुनिक उपकरणों और सुविधाओं के कारण मुझे लगता है कि भारत में अपने तरह की यह पहली एकेडमी है। यहां मुक्केबाजों के लिए सभी आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध हैं।’ ओनलर ने कहा कि इसे तैयार हुए लगभग 2 साल हो गए हैं और हम चाहते हैं कि प्रधानमंत्री औपचारिक तौर पर इसका उदघाटन करें। एकेडमी भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) का एक्सटेंशन सेंटर भी है। यह मैरीकॉम क्षेत्रीय मुक्केबाजी फाउंडेशन का हिस्सा है। ओनलर ने कहा कि खेल सचिव एकेडमी आए थे। उन्होंने बताया कि इसको लेकर वह प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री से तीन बार मुलाकात कर चुके हैं। उन्होंने आश्वासन दिया कि प्रधानमंत्री इसका उद्घाटन करेंगे। ओनलर ने उम्मीद जताई कि इस साल किसी भी समय प्रधानमंत्री औपचारिक तौर पर एकेडमी का उद्घाटन कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *