Mystery shoppers to track Indian Railways services Food and facilities to staff behaviour -एक और नया प्लान! ट्रेनों में ‘जासूस’ भेज जांचेंगे खाना, सुविधा और स्टाफ का बर्ताव

भारतीय रेलवे ने ट्रेनों में खान-पान से लेकर हर तरह की व्यवस्था जांचने के लिए एक खास प्लान तैयार किया है। यह प्लान है ट्रेनों में यात्रियों के रूप में जासूस भेजकर सुविधाओं का सच जानने का।रेलवे इसके लिए  एक टीम गठित करने की तैयारी में है, जिनकी पहचान गोपनीय रखी जाएगी। उन्हें ट्रेनों के अंदर और स्टेशन पर भी खाना, स्टाफ के व्यवहार, ट्रेन के संचालन की टाइमिंग आदि का हाल देखेंगे।ये जासूस यात्रियों की तरह ही ट्रेनों में सफर करेंगे।

दरअसल रेलवे ने पहली बार क्वालिटी ऑडिट सिस्टम के तहत इन जासूसों की नियुक्ति की है।इनका उपयोग बाजार के अध्ययन के साथ आतित्थ और रिटेल सेक्टर की परख करना होता है।इसके बाद इनकी रिपोर्ट पर रेलवे एक्शन लेगी।
भारतीय रेलवे के सूत्रों ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि इन जासूसों को रेलवे ने चुना है।पहले ट्रायल के तौर पर सिर्फ पचास जासूसों को चिह्नित स्थानों पर भेजकर सुविधाओं का हाल अफसर जानेंगे।
बता दें कि 20 वीं शताब्दी में पहली बार अमेरिका और यूनाइटेड किंगडम मे में कुछ फर्मों ने कर्मचारियों की एकता को भांपने के लिए ऐसे जासूसों की नियुक्ति शुरू की।इस वक्त रेलवे में खाने आदि की सुविधाओं की जांच के लिए रोजाना 40 हजार निरीक्षण होते हैं।इसमें ज्यादातर औचक निरीक्षण होते हैं।दरअसल इन दिनों रेलवे को ट्विटर और फेसबुक के जरिए रोजाना छह हजार से अधिक ऐसी शिकायतें मिल रहीं हैं, जो कार्रवाई लायक होती हैं। इन सब चीजों को देखते हुए रेलवे ने अब जासूसों के जरिए सुविधाओं का सच जानने की तैयारी की है।

संबंधित खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *