pm narendra modi wish ramjan in urdu – पीएम नरेंद्र मोदी ने उर्दू में ट्वीट कर दी रमजान की बधाई

देश में रमजान के पाक महीने की शुरुआत हो चुकी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी देशवासियों को रमजान की ढेर सारी शुभकामनाएं दी हैं। खास बात यह भी है कि प्रधानमंत्री ने सोशल मीडिया ट्विट पर उर्दू में ट्वीट कर लोगों को रमजान की बधाई दी। प्रधानमंत्री ने लिखा कि सभी को पवित्र महीने के लिए रमजान पर बधाई। उन्होंने लिखा कि पैगम्बर मुहम्मद के विचारों को नहीं भूलना चाहिए जिन्होंने सद्भावना, दया और उदारता के रास्ते पर चलने के महत्व को बतलाया। रमजान इस्लाम का सबसे पाक महीना होता है। इस्लाम कैलेंडर के मुताबिक यह नौंवा महीना होता है। पीएम मोदी ने इस ट्वीट के साथ एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर डाला है। इस वीडियो में प्रधानमंत्री लोगों को रमजान की बधाई दे रहे हैं और उन्हें रमजान के पाक महीने के महत्व से भी परिचित करा रहे हैं। प्रधानमंत्री की आवाज में इस वीडियो संदेश के जरिए लोगों को शुभकामनाएं दी गई है।

बड़ी खबरें

इससे पहले बुधवार (16 मई) को आसमान में चांद के नजर आते ही रमजान का ऐलान कर दिया गया। जमीयत उलेमा-ए-हिंद की तरफ से यह ऐलान किया गया। इस बार उत्तर भारत में मौसम खराब होने की वजह से कहीं-कही चांद नजर नहीं भी आया। जिसे लेकर फतेहपुरी मस्जिद के इमाम मौलाना मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने गुरुवार से ही रमजान का महीना शुरू होने का ऐलान किया उन्होंने कहा कि दक्षिण भारत के राज्यों में चांद दिखने की तस्दीक को मान लिया गया है। दिल्ली के कई मस्जिदों में भी घोषणा की गई कि गुरुवार को ही पहली रोजा रखी जाएगी। रमजान में मुस्लिम संप्रदाय के लोग पूरे एक महीने के लिए रोजा रखते हैं। इस दौरान सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक कुछ भी खाने-पीने की मनाही होती है। रमजान में बुरी आदतों से दूर रहने के लिए कहा गया है।

रमजना में इबादत का अपना अलग ही महत्व होता है। मान्यताओं के मुताबिक इस महीने में अपनी गलतियों को सुधारने का मौका भी मिलता है। गलतियों के लिए तौबा करने एवं अच्छाइयों के बदले बरकत पाने के लिए ही इस महीने में इबादत का खास महत्व है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *