Rahul Gandhi Iftar: Guest wearing Cap to Congress President in Roza Party, Sharad Pawar, Akhilesh Yadav, Mayawati & Mamta Banarjee did not came in INC Event – इफ्तार में राहुल को मेहमान ने पहनाई टोपी, नहीं आए पवार, अखिलेश, ममता, माया जैसे दिग्गज

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की इफ्तार पार्टी में मेहमान ने उन्हें टोपी पहनाई। बुधवार (13 जून) को दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में आयोजित इस कार्यक्रम में राजनीतिक और धार्मिक जमावड़ा लगा। मगर 18 राजनीतिक दलों को दिए गए बुलावे के बावजूद विपक्ष का कोई दिग्गज नजर नहीं आया। इफ्तार में नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार, समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस कांग्रेस (टीएमसी) की सुप्रीमो ममता बनर्जी व बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) की मुखिया मायावती सरीखे दिग्गज नहीं पहुंचे। राहुल ने उस दौरान सभी का स्वागत किया और इफ्तार संपन्न होने पर बोले कि खाना बहुत बढ़िया था।

सोशल मीडिया पर शेयर किए फोटोः कांग्रेस अध्यक्ष ने इफ्तार को लेकर ट्वीट भी किया, जिसमें उन्होंने कुछ तस्वीरें भी पोस्ट की थीं। उन्होंने लिखा, “बढ़िया खाना, दोस्ताना चेहरे और शानदार बातचीत ने इफ्तार को और भी यादगार बना दिया। हमें खुशी है कि दो पूर्व राष्ट्रपति- प्रणब दा और प्रतिभा पाटिल जी ने यहां शिरकत की। कार्यक्रम में उनके साथ कुछ अन्य राजनीतिक संगठनों के नेता, मीडिया से जुड़ी शख्सियतें, राजनयिक व कई पुराने और नए दोस्त शामिल हुए।” राहुल के अलावा कार्यक्रम में कांग्रेस के बड़े चेहरे शामिल हुए।

संबंधित खबरें

कौन-कौन पहुंचा था कार्यक्रम में: पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, जनता दल (यूनाइटेड) के पूर्व नेता शरद यादव, एनसीपी के दिनेश त्रिवेदी, डीएमके की सांसद कनिमोझी, माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी, जेडीएस के दानिश अली, झामुमो के हेमंत सोरेन, राकांपा के डीपी त्रिपाठी, एआईयूडीएफ के बदरुद्दीन अजमल, आरजेडी के मनोज झा, और रूसी राजदूत निकोले कुदाशेव।

दिल्ली में कार्यक्रम, पर केजरीवाल को न्योता नहीं!: रिपोर्ट्स के अनुसार, राहुल की इस इफ्तार में सपा से कोई नहीं था, जबकि आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को निमंत्रण न भेजे जाने की बात सामने आई। इफ्तार में इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उसी दिन जारी हुए फिटनेस वीडियो का मजाक भी बनाया गया, जिस पर कई नेता ठहाका लगाते दिखे थे।

राहुल ने टोपी पहनाए जाने के लगभग पांच मिनट बाद ही उसे उतार दिया था। (फोटोः यूट्यूब)

मां सोनिया भी रख चुकी हैं इफ्तारः ने याद दिला दें कि कांग्रेस की ओर से इससे पहले साल 2015 में इफ्तार पार्टी रखी गई थी, तब पार्टी की कमान राहुल की मां सोनिया गांधी के हाथों में थी। बीते दिनों कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के शपथग्रहण के मौके पर विपक्षी एकता की झलक दिखी थी। हालिया इफ्तार के जरिए कांग्रेस भले ही फिर से विपक्ष को एकजुट करना चाह रही हो, मगर विपक्षी दलों के बड़े चेहरे उसके इस कार्य में नहीं शरीक हुए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *