RJD Chief Lalu Prasad Yadav discharged from AIIMS, taken back to RIMS, Delhi Police, Sub Inspector – एम्‍स से व्‍हील चेयर पर निकले लालू प्रसाद यादव, बाहर पुलिस अफसर को दे दिया धक्‍का

राजद अध्यक्ष लालू यादव को एम्स ने आज (30 अप्रैल) को डिस्चार्ज कर दिया है। उन्हें कड़ी सुरक्षा में व्हील चेयर पर एम्स के रूम नंबर 101 से बाहर लाया गया। इसके बाद उन्हें रांची के रिम्स में शिफ्ट कराने के लिए सुरक्षाकर्मी कड़े सुरक्षा इंतजाम में लेकर नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर पहुंचे, जहां एक सब इन्सपेक्टर पर लालू यादव भड़क गए। दरअसल, वो दारोगा लालू यादव को बैटरी रिक्शा पर बैठने से मना कर रहा था और कह रहा था कि उसे उसके बॉस ने लालू यादव को वापस लाने को कहा है। इस पर लालू दारोगा पर भड़क उठे और उसे धक्का देने लगे। लालू ने कहा, “ई दारोगा कह रहा है, बैक हो जाइए, बैक हो जाइए, पता नहीं किस बात के लिए ये दारोगा कह रहा है कि बैक हो जाइए, इसका एसपी हमारा बॉस है?”

इस दौरान दारोगा मोबाइल पर किसी से बात करने की कोशिश करता दिखा और लालू यादव को बैटरी रिक्शा पर बैठने से रोकता रहा। तब लालू यादव ने कहा, “हाथ हटाओ, हाथ हटाओ। बैठने देगा कि नहीं तुम।” इस दौरान कई लोग कहते सुने गए कि भाई बैठने दो, बीमार हैं, तब दारोगा ने हाथ हटा लिया और लालू यादव रिक्शे पर बैठ गए। जब पत्रकारों ने लालू यादव से पूछा कि क्या आपको परेशान किया जा रहा है? इसमें कोई साजिश है तो लालू ने कहा, “पूरा साजिश है।” एक दिन पहले ही लालू प्रसाद यादव ने एम्स प्रशासन को चिट्ठी लिखी है और रांची वापस नहीं भेजने की गुहार लगाई है। लालू ने पत्र में लिखा है कि उनकी बीमारी के इलाज के लिए जो मेडिकल सुविधाएं एम्स में उपलब्ध हैं, वह रिम्स या बिरसा मुंडा जेल में उपलब्ध नहीं है। इसलिए उनका इलाज यहीं होना चाहिए।

संबंधित खबरें

इससे पहले लालू यादव को डिस्चार्ज करने के विरोध में कुछ लोगों ने एम्स में हंगामा किया है और तोड़फोड़ की है। एम्स के सुरक्षा प्रभारी ने इस बाबत अज्ञात लोगों के खिलाफ दिल्ली पुलिस में एफआईआर दर्ज कराया है। बता दें कि लालू यादव को पिछले महीने 29 मार्च को एम्स में भर्ती कराया गया था। उनके किडने में इन्फेक्शन था और क्रिटनीन बढ़ा हुआ था। रिम्स के डॉक्टर उसे नियंत्रित नहीं कर पा रहे थे। इनके अलावा लालू यादव को डायबिटीज, ब्लड प्रेशर और हार्ट का भी प्रॉब्लम है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *