Tripura Election Chunav Result 2018 LIVE, Tripura Vidhan Sabha Assembly Chunav Election Result 2018 Counting Natije Live Updates in Hindi: BJP Has Emerged A Major Challenge for CPI-M Led Left Front in Tripura – Tripura Election Result 2018 LIVE UPDATES: अब BJP गठबंधन चल रहा आगे, ये है लेफ्ट का हाल

quit

Tripura Assembly Election/Chunav Result 2018 LIVE:त्रिपुरा विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को मतगणना का दौर जारी है। यहां 18 फरवरी को चुनाव हुए थे। राज्य की 60 सदस्यीय विधानसभा सीटों में से 59 पर मतगणना हो रही है। चारीलाम सीट से मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के उम्मीदवार रामेंद्र नारायण देबर्मा के निधन की वजह से इस सीट पर 12 मार्च को मतदान होगा। रुझानों में लेफ्ट ने बढ़त बना रखी है। अब तक 28 सीटों पर लेफ्ट के उम्‍मीदवार आगे चल रहे हैं। वहीं बीजेपी+ को 30 सीटों पर बढ़त मिली हुई है।

इस राज्‍य में 25.73 लाख से अधिक मतदाताओं में 76 फीसद ने वोट डाला गया था। राज्य में भाजपा पिछले 25 साल से सत्तासीन वाममोर्चा को उखाड़ फेंकने की कोशिश कर रही है। वाममोर्चा पिछले पांच विधानसभा चुनावों में अपराजेय रहा है। माकपा के दिग्गज नेता माणिक सरकार ने चार कार्यकाल पूरे किए हैं। त्रिपुरा में हाशिए पर सिमटी कांग्रेस 59 सीटों पर लड़ रही है। उसने काकराबोन सीट पर उम्मीदवार नहीं उतारा है। वह आखिर बार फरवरी 1988 और मार्च 1993 के बीच सत्ता में रही थी।

बड़ी खबरें

Meghalaya Election Result 2018 LIVE UPDATES

Nagaland Election Result 2018 LIVE UPDATES

Tripura Assembly Election/Chunav Result 2018 LIVE UPDATES (त्रिपुरा विधानसभा चुनाव नतीजे 2018):

– बीजेपी नेता राम माधव ने कहा है कि शुरुआती रुझानों के अनुसार, ”मुझे लगता है त्रिपुरा में बीजेपी बहुत अच्‍छा करने जा रही है और नागालैंड में भी हमारा गठबंधन अच्‍छा कर रहा है और कांग्रेस पीछे चल रही है। पूर्वोत्‍तर के नतीजे बीजेपी के लिए बहुत अच्‍छे होंगे।”

– त्रिपुरा में फिर मामला पलट गया है। अब लेफ्ट 25 सीट पर आगे चल रही है, वहीं बीजेपी गठबंधन ने 20 सीटों पर बढ़त बना ली है। कांग्रेस उम्‍मीदवार एक सीट पर आगे चल रहा है। अभी तक कुल 46 सीटों के रुझान आए हैं।

त्रिपुरा में बीजेपी बहुमत के आंकड़े की ओर बढ़ रही है। रुझानों के अनुसार, भाजपा गठबंधन को अब तक 23 सीट पर बढ़त हासिल है। जबकि 14 सीटों पर लेफ्ट के उम्‍मीदवार आगे चल रहे हैं। कांग्रेस ने 2 सीट पर बढ़त बनाई हुई है। अब तक कुल 39 सीटों के रुझान आए हैं।

– राज्‍य से अब तक कुल 25 सीटों के रुझान आए हैं। यहां पर लेफ्ट ने 16 सीट पर बढ़त बना ली है। वहीं बीजेपी+ उम्‍मीदवार 9 सीटों पर आगे चल रहे हैं। एक सीट पर कांग्रेस उम्‍मीदवार आगे चल रहे हैं।

– त्रिपुरा में कांग्रेस के पक्ष में पहला रुझान आया। अब यहां पर बीजेपी+ 9 सीट पर आगे है, जबकि लेफ्ट को 10 सीट पर बढ़त मिल गई है। कांग्रेस सिर्फ एक सीट पर बढ़त बनाए हुए है।

– रुझानों में पल-पल बदलाव हो रहा है। अब बीजेपी+ 10 सीट पर आगे चल रही है, जबकि लेफ्ट को 9 सीट पर बढ़त मिली हुई है। इस सीमावर्ती राज्य में चुनाव मैदान में उतरी भाजपा माकपा की अगुवाई वाले वाममोर्चा के लिए एक अहम चुनौती बनकर उभरी है।

– त्रिपुरा में मुख्‍यमंत्री माणिक सरकार आगे चल रहे हैं। यहां पर लेफ्ट 8 सीट पर बढ़त बनाए हुए है, जबकि बीजेपी+ 6 सीट पर आगे चल रही है। बीजेपी के संभावित सीएम कैंडिडेट सुदीप बर्मन अगरतला सीट से आगे हैं।

अगरतला सीट से बीजेपी के सुदीप बर्मन आगे चल रहे हैं। मुख्‍यमंत्री माणिक सरकार भी अपनी सीट से आगे चल रहे हैं। इस समय बीजेपी+ ने 6 सीट पर बढ़त बना रखी है, जबकि लेफ्ट 8 सीट पर आगे है।

– त्रिपुरा में बीजेपी+ और लेफ्ट में कांटे की टक्‍कर देखने को मिल रही है। एबीपी न्‍यूज के अनुसार, बीजेपी+ 4 सीट पर आगे चल रही है, जबकि लेफ्ट ने 5 सीटों पर बढ़त बना रखी है।

– त्रिपुरा में बीजेपी का खाता खुला। बीजेपी+ ने अब तीन सीट पर बढ़त बना ली है। लेफ्ट 1 सीट पर आगे चल रही है। यह सभी पोस्‍टल बैलट के रुझान हैं।

– एबीपी न्‍यूज के अनुसार, त्रिपुरा चुनाव का पहला रुझान लेफ्ट के पक्ष में गया है। अभी तक सिर्फ एक सीट पर पोस्‍टल बैलट की गिनती पूरी हुई है। 2013 में माकपा को 49 में से 55 सीटें मिली थीं। कांग्रेस 48 सीटों पर लड़ी थी और उसे 10 सीटों से संतोष करना पड़ा था।

– मतगणना से पहले हालांकि माकपा और भाजपा दोनों ने दावा किया है कि उसकी सरकार बनने जा रही है। किसके दावे में दम था, यह शनिवार को दोपहर बाद से स्पष्ट होने लगेगा। वर्ष 2013 के चुनाव में भाजपा ने त्रिपुरा में 50 उम्मीदवार उतारे थे, जिनमें से 49 की जमानत जब्त हो गई थी। मात्र 1.87 फीसदी वोट मिलने के कारण यह पार्टी एक भी सीट नहीं जीत पाई थी।

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने वामपंथ के बचे-खुचे किलों में से एक में भाजपा-आईपीएफटी चुनौती की अगुवाई की। माणिक सरकार ने भगवा चुनौती से इस वाम किले को बचाने की अकेले अपने दम पर बचाने की कोशिश की है। मतगणना सुबह 8 बजे शुरू होगी।

– पूर्वोत्तर में लगातार अपना पैर फैला रही भाजपा ने 51 सीटों पर उम्मीदवार उतार रखे हैं। उसने इंडिजिनियस पीपुल्स फ्रंट आॅफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) से चुनावपूर्व गठबंधन किया था। बाकी नौ सीटों पर वामविरोधी आईपीएफटी उम्मीदवार हैं। पार्टी पहले से ही असम, मणिपुर और अरुणाचल प्रदेश में सत्ता में है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *