Uttar Pradesh By election, SP President Akhilesh Yadav, RLD Leader Jayant Choudhary, Alliance in Kairana and Nurpur by poll – उत्तर प्रदेश उपचुनाव: बीजेपी के खिलाफ अखिलेश-जयंत का गठबंधन, कैराना से सपा, नूरपुर से रालोद उम्मीदवार

quit

उत्तर प्रदेश के कैराना संसदीय सीट और नूरपुर विधान सभा सीट के लिए समाजवादी पार्टी (सपा) और राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के बीच गठबंधन हो गया है। दोनों ही पार्टियों ने सीटों पर उम्मीदवारों को उतारने के लिए तालमेल कर लिया है। तालमेल के मुताबिक कैराना संसदीय सीट से सपा अपना उम्मीदवार उतारेगी, जबकि नूरपुर विधान सभा सीट से रालोद उम्मीदवार खड़ा करेगी। शुक्रवार को इस बाबत सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और रालोद नेता जयंत चौधरी के बीच करीब दो घंटे तक बातचीत हुई। एनडीटीवी से रालोद के प्रवक्ता अनिल दूबे ने बताया कि दोनों नेताओं के बीच उप चुनाव और अगले साल लोकसभा चुनाव को लेकर भी बातचीत हुई। इस दौरान उप चुनाव साथ-साथ लड़ने पर सहमति बनी। बता दें कि इससे पहले खबरें आई थीं कि राष्ट्रीय लोकदल किसी भी कीमत पर कैराना संसदीय सीट पर जयंत चौधरी को जरूर उतारेगी लेकिन लगभग 10 दिनों के बाद सपा-रालोद ने गठबंधन कर बीजेपी के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी हैं।

संबंधित खबरें

बीजेपी की तरफ से कैराना सीट से मृगांका सिंह को उम्मीदवार बनाए जाने की चर्चा है। वो दिवंगत सांसद हुकुम सिंह की बेटी हैं। कैराना और नूरपुर में 28 मई को चुनाव होने हैं। इसके लिए गुरुवार से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। कैराना सीट जहां बीजेपी सांसद हुकुम सिंह के निधन से खाली हुई है, वहीं नूरपुर सीट भी बीजेपी विधायक लोकेंद्र सिंह चौहान की सड़क हादसे में हुई मौत के कारण खाली हुई है। 31 मई को चुनाव के नतीजे आएंगे।

गोरखपुर और फूलपुर उप चुनावों में जीत से गदगद सपा आगामी उप चुनाव में भी बीजेपी को झटका दे सकती है। मायावती की बहुजन समाज पार्टी पहले ही उप चुनाव नहीं लड़ने और सपा उम्मीदवार को समर्थन देने का एलान कर चुकी है। ऐसे में नए गठबंधन के तहत अब सपा, बसपा और रालोद एकसाथ आ चुकी है। माना जा रहा है कि कांग्रेस भी सपा और रालोद के उम्मीदवारों का समर्थन करेगी। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सामाजिक समीकरण और नए गठबंधन के तहत कैराना सीट पर दलित, मुसलमान, जाट और अन्य पिछड़ी जातियां सपा के लिए लामबंद हो सकती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *