Varanasi Bridge Collapse: PM Narendra Modi is being targeted by Netizens for his old and half statement given on Kolkata flyover collapse, Watch Video – फ्लाइओवर हादसा: आधा बयान वाले वीड‍ियो से नरेंद्र मोदी पर न‍िशाना साध रहे लोग, देखें वीडियो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मंगलवार (15 मई) की शाम निर्माणाधीन पुल का एक हिस्सा गिरने से हुए दर्दनाक हादसे की टीस देशवासियों के मन को लगातार कचोट रही है। सरकार ने भले ही फौरी तौर पर कार्रवाई कर कुछ लोगों को सस्पेंड किया हो और हादसे के कारणों को जानने के लिए जांच बैठाकर मृतकों और घायलों के परिजनों को मुआवजे का मरहम लगाया हो, लेकिन जनता के मन में सरकार और प्रशासन के खिलाफ नाराजगी कम नहीं हो रही है और वो इसे लापरवाही करार दे रही है। हादसा कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे आने वाले दिन हुआ, इसलिए, इंटरनेट पर कुछ यूजर्स ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक पुराना वीडियो निकाल लिया, जिसमें 2016 में कोलकाता में गिरे एक फ्लाइओवर के हादसे पर उन्होंने एक चुनावी सभा के दौरान व्यंग्य कसा था। पुल हादसे पर सूबे की सरकार के रवैये की आलोचना करते हुए पीएम मोदी ने हादसे को ‘भगवान का संदेश’ करार दिया था। इस ब्यान पर एक वर्ग में उनकी खासी आलोचना हुई थी। अब जनता वाराणसी की दुर्घटना से भी पीएम मोदी के पुराने बयान की प्रासंगिकता जोड़ रही है। एनडीटीवी के पुराने यूट्यूब वीडियो में पीएम मोदी कहते हुए दिखाई देते हैं- ”ये एक्ट ऑफ गॉड तो उस मात्रा में जरूर है, क्योंकि चुनाव के दिनों में गिरा, ताकि पता चले कि आपने कैसी सरकार चलाई है, इसलिए भगवान ने लोगों को संदेश दिया है कि आज ये ब्रिज टूटा कल ये पूरा बंगाल ऐसे ही खत्म कर देगी। इसको बचाओ, ये भगवान ने संदेश भेजा है।” इसी वीडियो में वह आगे कहते दिखाई दे रहे हैं- ”ये टीएमसी का सीधा-सीधा अर्थ पांच साल में निकल आया है कि टी का मतलब टेरर, एम का मतलब मौत, सी का मतलब करप्शन, आप तय कीजिए आपको टेरर, मौत और करप्शन से बंगाल को बचाना है कि नहीं बचाना है।”

संबंधित खबरें

लेकिन एनडीटीवी के यूट्यूब वीडियो में पीएम मोदी के भाषण की पूरी बात स्पष्ट नहीं हो रही है। पीएम मोदी की पूरी बात वाला वीडियो एक और यूट्यूब चैनल पर देखा जा रहा है। डर्टी पॉलिटिक्स नाम के यूट्यूब चैनल पर देखे जा रहे इस वीडियो के 23.21 से 24.12 मिनट तक के हिस्से में पीएम मोदी की पूरी बात स्पष्ट सुनी जा सकती है, जिसमें वह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं- ”और इतना बड़ा ब्रिज टूट गया तो क्या कहते हैं ये लोग, ये कहते हैं… ये तो एक्ट ऑफ गॉड है। दीदी… ये एक्ट ऑफ गॉड नहीं, ये तो एक्ट ऑफ फ्रॉड है फ्रॉड…। ये एक्ट ऑफ फ्रॉड का परिणाम है। ये एक्ट ऑफ गॉड तो उस मात्रा में जरूर है, क्योंकि चुनाव के दिनों में गिरा, ताकि पता चले कि आपने कैसी सरकार चलाई है, इसलिए भगवान ने लोगों को संदेश दिया है कि आज ये ब्रिज टूटा कल ये पूरा बंगाल ऐसे ही खत्म कर देगी। इसको बचाओ, ये भगवान ने संदेश भेजा है।”

बता दें कि अप्रैल 2016 में पश्चिम बंगाल के मदारीहाट में पीएम मोदी एक चुनावी रैली के दौरान सूबे की तृणमूल कांग्रेस सरकार पर जमकर बरसे थे। इसी दौरान अपने भाषण के एक हिस्से में पीएम मोदी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी समेत उनकी सरकार को उसी दौरान कोलकाता में गिरे निर्माणाधीन पुल को लेकर घेरा था। उस हादसे में 21 लोग मारे गए थे, जबकि 150 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर आई थी। वाराणसी के पुल हादसे की तरह उस हादसे ने भी पूरे देश को दहला दिया था।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *