Video: Jammu Kashmir, Terrorist attack on CRPF Camp in ShriNagar, karan nagar Encounter video live – वीडियो: कश्‍मीर में इस जगह चल रही थी आतंकियों से मुठभेड़, दोनों आतंकी ढेर

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर के करण नगर में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के कैम्प पर सोमवार (12 फरवरी) को तड़के हुए आतंकी हमले में आतंकियों से मुठभेड़ खत्म हो गई है। मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने दोनों आतंकियों को मार गिराया है। बीती रात भी सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच रह-रहकर गोलीबारी होती रही थी। बता दें कि इस हमले में एमएम खान नाम के एक जवान शहीद हो चुके हैं। सोमवार की सुबह आतंकियों ने इन्हें निशाना बनाया था। इसके बाद पास की एक बिल्डिंग में आतंकी जा छिपे थे। शहीद जवान एमएम खान को सीआरपीएफ के सीनियर अफसरों ने मंगलवार को अंतिम सलामी दी। इस बीच लश्कर-ए-तैयबा ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। दोनों आतंकी एके-47 रायफल से लैस थे।

दोपहर में जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एस पी वैद्य ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि इस मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराया गया है, दूसरे को भी जल्द ढेर कर दिया जाएगा। वहीं, श्रीनगर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक स्वंयप्रकाश पाणि ने जानकारी दी थी कि वहां मुठभेड़ जारी है। आईजी ने वहां दो आतंकियों के छिपे होने की आशंका जताई थी। हालांकि, उन्होंने बताया था कि ऑपरेशन अंतिम दौर में है। इधर, समाचार एजेंसी एएनआई ने इस मुठभेड़ का एक वीडियो जारी किया है, जिसमें सुरक्षाबलों द्वारा की जा रही फायरिंग की आवाज साफ-साफ सुनाई दे रही है।

बड़ी खबरें

बता दें कि सुंजवान में फिदायीन हमले के 72 घंटे के भीतर ही आतंकवादियों ने सोमवार सुबह करीब साढ़े चार बजे ही श्रीनगर के करण नगर इलाके में सीआरपीएफ की 23वीं बटालियन के मुख्यालय में एके-47 रायफल लेकर दो आतंकवादियों ने हमला कर घुसने की कोशिश की, लेकिन सतर्क सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों की कोशिश को नाकाम कर दिया था। इस दौरान सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ हुई, जिसमें अर्धसैनिक बल का एक जवान घायल हो गया और कुछ समय बाद ही उसकी मौत हो गई। शहीद जवान का नाम एमएम खान है। वे 49वीं बटालियन में तैनात थे। सीआरपीएफ के आईजी ऑपरेशन जुल्फिकार हसन ने मीडिया से बातचीत में कहा कि आतंकियों से अभी भी मुठभेड़ जारी है, लेकिन सुरक्षाबल के जवान बहुत ही मुस्तैदी और होशियारी से बिना पब्लिक प्रॉपर्टी या जान-माल को नुकसान पहुंचाए मुठभेड़ कर रहे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *