कोच रवि शास्त्री ने कहा- विराट कोहली हैं दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज – Ravi Shastri Says That Virat Kohli is Best Cricketer of The World Right Now

भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री का मानना है कि अपने प्रभावशाली प्रदर्शन से विराट कोहली वर्तमान समय में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज बन गए हैं। कोहली के अलावा जो रूट, केन विलियमसन और स्टीवन स्मिथ को वर्तमान समय का दुनिया के चोटी के चार बल्लेबाजों में आंका जाता है लेकिन शास्त्री का मानना है कि भारतीय कप्तान का कोई सानी नहीं है। कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ छह एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला में 558 रन बनाए जिससे भारत ने इसमें 5-1 से जीत दर्ज की। शास्त्री ने वनडे श्रृंखला के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह केवल औसत से जुड़ा मसला नहीं है। यह आप जिस तरह से रन बनाते हो और इनसे टीम पर पड़ने वाले प्रभाव से जुड़ा है। मैं यही कहूंगा कि अभी वह दुनिया का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज है।’’

शास्त्री ने कोहली की तारीफ करने में कोई कसर नहीं छोड़ी और टीम में जीत का जज्बा भरने का श्रेय कप्तान को दिया। उन्होंने कहा, ‘‘आप जज्बे की बात करते हो। जज्बा कहां से आता है। जब आपके पास इस तरह का नेतृत्वकर्ता हो जो कि खुद आगे बढ़कर नेतृत्व करता हो तो अन्य खिलाड़ी अच्छी तरह से उसका अनुसरण करते हैं।’’ इस दौरे में शास्त्री के लिए सबसे अच्छा दौर टीम का टेस्ट श्रृंखला में 0-2 से पिछड़ने के बाद वापसी करना रहा। उन्होंने कहा, ‘‘यहां तक कि टेस्ट श्रृंखला में दो मैच गंवाने के बाद उन्होंने जज्बा दिखाया और जोहानिसबर्ग में मुश्किल परिस्थितियों में टेस्ट मैच जीता। इसके बाद वनडे में भी लय बरकरार रखी। उन्होंने पिछले दो सप्ताह में जो निरंतरता दिखाई वह लाजवाब है।’’

शास्त्री ने कहा, ‘‘सारा श्रेय कप्तान को जाता है क्योंकि उन्होंने आगे बढ़कर नेतृत्व किया। पहले अपनी बल्लेबाजी से और फिर अपने जज्बे से जिससे टीम के अन्य सदस्य भी प्रेरित हुए।’’ कोच ने कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की भी तारीफ की जिन्होंने बीच के ओवरों में विकेट हासिल किए। शास्त्री ने कहा, ‘‘यहां तक कि मेरे पिछले कार्यकाल (टीम निदेशक) के दौरान भी मैं और विराट हमेशा बीच के ओवरों में विकेट हासिल करने को लेकर चर्चा करते थे। हम इसके लिए सही तरह के गेंदबाजों को चाहते थे और सौभाग्य से कुलदीप और चहल ने एक दूसरे का अच्छा साथ दिया।’’ उन्होंने जसप्रीत बुमराह की भी तारीफ की और उन्हें सभी प्रारूपों के लिए विश्वस्तरीय गेंदबाज करार दिया।

शास्त्री ने कहा, ‘‘बुमराह सभी प्रारूपों में विश्वस्तरीय गेंदबाज है और उसने बहुत जल्दी परिपक्वता हासिल की। आप कल्पना नहीं कर सकते कि उसने केपटाउन में अपना पहला टेस्ट मैच खेला था।’’ कोच इसके साथ ही लगता है कि विश्व कप के लिए तैयारियों से भी संतुष्ट हैं। उन्होंने कहा, ‘‘विश्व कप के लिए तैयारियां बहुत अच्छी हैं क्योंकि यह एक समय में एक कदम आगे बढ़ना है। हमने इस दौरे में कुछ अच्छी चीजें सीखी। यह युवा टीम है और इसे आगे कड़े दौरों पर जाना है। मुझे लगता है कि इस दौरे पर उन्होंने खुद को अच्छी तरह से तैयार किया है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *